नई दिल्ली, प्रेट्र। यूथ ओलंपिक गेम्स 2018 में भारतीय अंडर18 हॉकी टीम अपने अभियान की शुरुआत बांग्लादेश के खिलाफ सात अक्टूबर से करेगा। वहीं महिला हॉकी टीम का पहला मैच ऑस्ट्रिया से होगा। महिला और पुरुष टीमों में खिलाड़ियों की संख्या नौ होगी जिसमें दो गोलकीपर, दो डिफेंडर, दो मिडफील्डर और तीन फॉरवर्ड होंगे। भारतीय पुरुष टीम को ग्रुप बी में रखा गया है और विवेक सागर प्रसाद की अगुआई में ये टीम बांग्लादेश से मुकाबले के बाद आठ अक्टूबर को ऑस्ट्रिया से, नौ अक्टूबर को केन्या के खिलाफ मैच खेलेगी। इसके बाद भारतीय टीम को 2014 ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दस अक्टूबर को जबकि सिल्वर मेडल जीतने वाले कनाडा के साथ 11 अक्टूबर को मैच खेलना है। यूथ ओलंपिक गेम्स में ग्रुप ए में अर्जेंटीना, मलेशिया, मैक्सिको, पोलैंड, वनातु और जांबिया को रखा गया है। 

महिला टीम की बात करें तो इस टीम की कमान सालिमा तेते के हाथ में है और भारत को ग्रुप ए में रखा गया है। महिला टीम को आठ अक्टूबर को उरुग्वे, नौ अक्टूबर को वनातु, दस अक्टूबर को अर्जेंटीना और 11 अक्टूबर को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलना है। ग्रुप बी में ऑस्ट्रेलिया चाइना, मैक्सिको, नामीबिया, पौलेंड और जिम्बाब्वे को रखा गया है। 

हॉकी इंडिया के हाई परफार्मेंस डायरेक्टर डेविड जॉन का कहना है कि यूथ ओलंपिक गेम्स काफी अहम टूर्नामेंट है। युवा खिलाड़ियों को इसमें हिस्सा लेने से काफी कुछ सीखने को मिलता है। खिलाड़ियों को इस बात का अनुभव होता है कि किस तरह से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शन करना चाहिए। भारतीय टीम अगर यहां अच्छा प्रदर्शन करती है तो ये हमारे लिए गर्व की बात होगी। पहली बार भारतीय युवा हॉकी टीम यूथ ओलिंपक गेम्स में हिस्सा ले रही है। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern