लुसाने, पीटीआइ। अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआइएच) ने मंगलवार को अपने अध्यक्ष नरेंद्र बत्रा को पिछले साल लंदन में हॉकी विश्व लीग सेमीफाइनल के दौरान ब्रिटिश कानून प्रवर्तन प्राधिकारियों के खिलाफ आवेग में आने के लिए लिखित में चेतावनी दी और जुर्माना लगाया। बत्रा भारतीय ओलंपिक संघ (आइओए) के भी अध्यक्ष हैं। उन्हें एफआइएच अध्यक्ष के रूप में अपने कार्यो को आगे बढ़ाने के लिए किसी भी तरह प्रतिबंधित नहीं किया गया है।

भारतीय खिलाड़ी सरदार सिंह को यौन उत्पीड़न के मामले में पूछताछ के लिए बुलाने पर हॉकी इंडिया के पूर्व अध्यक्ष बत्रा ने ब्रिटिश कानून प्रवर्तन प्राधिकारियों पर अनुचित तरीके से कार्य करने का आरोप लगाया था। हालांकि बत्रा ने इसके लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगी है।

लंदन में पाकिस्तान के खिलाफ ग्रुप मैच से एक दिन पहले पूर्व कप्तान सरदार को भारतीय मूल की अंतरराष्ट्रीय इंग्लिश खिलाड़ी की शिकायत के बाद यॉर्कशर पुलिस ने सम्मन जारी कर लीड्स बुलाया था। इस पर बत्रा ने सरदार को बुलाने की आलोचना करते हुए इस पर सवाल उठाए थे।

मरिन पर गिर सकती है गाज

कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय हॉकी टीम के पदक नहीं जीतने और दिशाहीन प्रदर्शन करने की गाज मुख्य कोच शोर्ड मारिन पर गिर सकती है। हॉकी इंडिया इस सप्ताह के अंत में बैठक कर उनके प्रदर्शन की समीक्षा करेगा। ऐसा माना जा रहा है कि टीम के कुछ सीनियर खिलाड़ियों ने मंगलवार को हॉकी इंडिया के आला अधिकारियों से मुलाकात करके प्रदर्शन के बारे में रिपोर्ट दी। इनमें कप्तान मनप्रीत सिंह, गोलकीपर पीआर श्रीजेश और ड्रैग फ्लिकर रुपिंदर पाल सिंह शामिल हैं।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal