संवाद सहयोगी, ऊना: एक दिसंबर से जिला ऊना में ठंड का प्रकोप बढ़ गया है। शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन भी ठंड अपने तेवर में रही। हालांकि सुबह हल्की बूंदाबांदी कहीं-कहीं हुई और उसके बाद खिली धूप ने भी लोगों को प्रदान की। दोपहर तक फिर से बादल छा गए। लोगों ने ठंड से बचाव के लिए जहां गर्म कपड़ों को पहनना शुरू कर दिया है वहीं आग जलाकर भी लोग सेंक रहे हैं। सूर्यदेव का बादलों के पीछे बार-बार छिपने का क्रम पूरा दिन जारी रहा। ऐसे में कई लोग घरों में दुबकने के लिए मजबूर हैं।

बाजार में बढ़ी हीटर्स की मांग

ठंड में घर और कार्यालय में बैठकर आग जलाने के लिए लकड़ियों का चूल्हा और बिजली संचालिक हीटर दो बड़े साधन हैं। ठंड में बढ़ोतरी के साथ ही बाजार में बिजली संचालित हीटर्स की मांग भी बढ़ गई है। बाजार में छोटे हीटर से लेकर बड़े स्टेंडिग हीटर की मांग दिख रही है। विक्रेता अनिल कुमार ने बताया कि मार्केट में पांच सौ के करीब छोटे हीटर से लेकर स्टेंडिग बड़े हीटर की मांग है। बड़े हीटर में 1200 से लेकर तीन हजार और इससे ज्यादा कीमत के हीटर उपलब्ध हैं। इन दिनों हीटर्स की मांग बढ़ गई है।

बाजार में बिक रहे गलव्ज

ठंड में सबसे ज्यादा परेशानी का सामना दोपहिया वाहन चालकों को करना पड़ता है क्योंकि दोपहिया वाहन चालकों को सफर करते समय ठंडी हवा सीधे प्रभावित करती है। सुबह-सुबह कामकाज और कार्यालयों के निकलने वाले लोग बाजार में गर्म दस्ताने भी खरीद रहे हैं।

न्यूनतम तापमान में गिरावट जारी

मौसम विभाग के समन्वयक विनोद कुमार शर्मा ने बताया कि शुक्रवार को अधिकतम तापमान 24.3 तथा न्यूनतम 10.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। न्यूनतम तापमान बीते रोज से हल्का लुढ़का है, जोकि ठंड बढ़ने का संकेत है।

Edited By: Jagran