संवाद सहयोगी, ऊना : क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में जहर निगलने वाले बुजुर्ग को रेफर करने पर उसका बेटा भड़क गया। उसने खूब हुड़दंग मचाया। अस्पताल प्रबंधन ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर नशे में धुत बेटे को पकड़ लिया। इसके बाद जहर निगलने वाले व्यक्ति को पीजीआइ चंडीगढ़ रेफर किया गया। जहां पर उसका इलाज चल रहा है।

बंगाणा उपमंडल के एक गांव के 60 वर्षीय व्यक्ति ने संदिग्ध हालात में रविवार को जहर का सेवन कर लिया। स्वास्थ्य बिगड़ने पर परिजनों ने उसे नजदीकी अस्पताल पहुंचाया। वहां से क्षेत्रीय अस्पताल ऊना रेफर कर दिया। इमरजेंसी में तैनात डॉक्टरों ने व्यक्ति का स्वास्थ्य जांचा। हालत में सुधार न होने पर पीजीआइ चंडीगढ़ रेफर कर दिया। इस पर नशे में धुत बेटे ने बबाल खड़ा कर दिया। वह रेफर करने का विरोध करने लगा। चिकित्सकों से अभद्र व्यवहार पर उतारू हो गया। करीब पौने घंटे तक कभी इमरजेंसी तो कभी बाहर आकर शराबी पुत्र हुड़दंग मचाने लगा।

होमगार्ड जवानों तथा पुलिसकर्मियों के समझाने पर भी नहीं माना। इसके बाद ऊना पुलिस थाना से पुलिस टीम को बुलाया गया। पुलिस ने हुड़दंग मचाने वाले युवक को हिरासत में लेकर क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में मेडिकल कराया जिसमें शराब पीने की पुष्टि हुई। फिलहाल आरोपित को पुलिस ने हवालात में रखा हुआ है। जबकि उसके पिता को ऊना अस्पताल से पीजीआइ चंडीगढ़ भेजा गया है। डीएसपी अशोक वर्मा ने बताया कि पुलिस मामले में कार्रवाई की गई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप