जागरण संवाददाता, ऊना : बेशक कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए कारगर कदम प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की तरफ से उठाए जा रहे है। बावजूद इसके लोगों को कोविड नियमों की कोई परवाह नहीं है। बिना मास्क के घूमने में हर वर्ग के लोग शामिल हैं, लेकिन युवा पीढ़ी मास्क को पहनना अपनी शान के खिलाफ मान रही है। ऐसे बेपरवाह लोगों के कारण कई जगहों पर कोरोना के मामले भी बढ़ने की संभावना है।

हद तो इस बात की है कि सड़कों सहित बाजारों में लोग बिना मास्क और दो गज की दूरी के नियमों को न अपनाते हुए निडर घूम रहे हैं। कई युवा बिना मास्क के घूमने के कारण अपने घर के परिवारिक सदस्यों को आफत में डाल सकते हैं क्योंकि कोरोना का कहर अभी जारी है। हैरत का विषय है कि पुलिस प्रशासन की तरफ से कठोर कदम उठाने के बाद भी नियमों की कोई परवाह नहीं कर रहा है। अब तो कई जगह यह भी देखने को मिल रहा है कि पुलिस कर्मी भी महज औपचारिकता निभाने तक सीमित हैैं।

---

कैसे मिल रहा मार्केट से सामान

कोरोना काल में यह देखने में आया था कि कई दुकानदारों ने अपनी दुकानों पर बिना मास्क वाले लोगों को सामान न देने के चेतावनी बोर्ड दुकान के बाहर लगाई थे, लेकिन बाजार में कई लोग का सरेआम बिना मास्क एवं शारीरिक दूरी बनाए बिना सामान लेकर घूमते देखे जा सकते हैं।

---

पुलिस प्रशासन भी बरत रहा ढील

अनलाक के बाद प्रशासनिक अधिकारियों की तरफ से बिना मास्क के चालान काटने की मुहिम शुरू की थी। इसमें पुलिस प्रशासन ने काफी लोगों के चालान भी किए थे, लेकिन अब पुलिस की मुहिम दम तोड़ती नजर आ रही है। पुलिस को कोविड नियमों का पालन सुनिश्चित करवाने के लिए कठोर कदम उठाने चाहिए।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस