मनमोहन वशिष्ठ, सोलन

जरूरी नहीं कि अच्छी नौकरी करके ही पैसा कमाया जा सकता है और अच्छा जीवन जीया जा सकता है। मन में काम करने की दृढ़ इच्छाशक्ति हो तो खेतों में कार्य करके भी लखपति बन सकते हैं यानी लाखों रुपये कमा सकते हैं। सोलन के शिल्ली गांव के मनदीप वर्मा ने भी मन में खेती करने की ठान ली। विप्रो कंपनी में मैनेजर की नौकरी छोड़कर बंजर जमीन को हराभरा बनाने में जुट गए। मनदीप 14 बीघा जमीन कीवी की खेती कर रहे हैं। इससे वह लाखों रुपये कमा रहे हैं।

शिल्ली गांव में तैयार कीवी का स्वाद पूरा देश चख रहा है। ऑर्गेनिक खेती से बेहतर क्वालिटी की कीवी तैयार कर देशभर में मिसाल बन रहे मनदीप वर्मा की मेहनत औरों के लिए भी प्रेरणा बन गए हैं। वह न केवल कीवी का उत्पादन बल्कि इसकी नर्सरी भी तैयार कर अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं। अब वह सेब के 500 पौधे लगाकर सेब के उत्पादन में भी आगे बढ़ रहे हैं।

-----------

2014 से कर रहे हैं खेती

मनदीप वर्मा ने बताया कि 2014 में गुरुग्राम स्थित विप्रो कंपनी में वह मैनेजर के पद पर कार्यरत थे। उनकी पत्नी भी कंपनी में सचिव के पद पर कार्यरत थी। इस दौरान मन में ख्याल आया कि घर में पुश्तैनी जमीन बंजर बन रही है तो नौकरी छोड़ कीवी का उत्पादन करना शुरू किया। सोलन के बागवानी विभाग और डॉ. वाईएस परमार विवि नौणी के वैज्ञानिकों से सलाह के बाद कीवी का बगीचा तैयार किया। वर्तमान में वह 14 बीघा जमीन पर कीवी का उत्पादन कर रहे हैं। इस वर्ष पांच से छह टन कीवी उत्पादन की उम्मीद है। वह ऑर्गेनिक खेती कर रहे हैं।

----------

ऑनलाइन ही बिक जाता है सारा उत्पाद

मनदीप ने बताया कि वह बगीचे में तैयार फल को बेचने के लिए बाजार में नहीं जाते अपितु घर से ही सारा उत्पाद बिक जाता है। उन्होंने वेबसाइट बनाई है, उससे ऑनलाइन ही कीवी की बुकिग कर सप्लाई की जाती है। देशभर में सप्लाई भेजी जाती है। हालांकि सोलन में भी कीवी की अच्छी खपत है। डिब्बे पर कब फल टूटा, कब डिब्बा पैक हुआ सारी डिटेल दी जाती है। एक डिब्बे में एक किलो कीवी पैक होती है और इसके दाम 350 रुपये प्रति बॉक्स है। वह कीवी उत्पादन व नर्सरी से सालाना आठ से दस लाख रुपये कमा रहे हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप