संवाद सूत्र, नालागढ़ : औद्योगिक क्षेत्र नालागढ़ से चंडीगढ़ के लिए बनने वाले नए मार्ग के हिमाचल हिस्से का कार्य नोटिस की अवधि के बीच शुरू नहीं किया तो विभाग ठेकेदार का ठेका रद करेगा। लोक निर्माण विभाग ने ठेकेदार को नोटिस देकर एक पखवाड़े का समय दिया है और एक सप्ताह बीत चुका है। इस नए मार्ग के बनने से नालागढ़ से चंडीगढ़ की दूरी करीब 30 किलोमीटर रह जाएगी।

हिमाचल सीमा का इसमें नालागढ़ से सैणीमाजरा मंझौली, झीड़ा लखनपुर तकरीबन 10 किलोमीटर मार्ग है, जहां से आगे पंजाब की सीमा का गगोट माजरी गांव आता है। बनने वाले चार किलोमीटर मार्ग में दो किलोमीटर हिस्सा हिमाचल और दो किलोमीटर भाग पंजाब में है। हिमाचल के भाग की सड़क के टेंडर अवार्ड हो चुके हैं और विभाग इसका कार्य जल्द शुरू करवाना चाहता है।

इस नए मार्ग से लोगों को चंडीगढ़ पहुंचना और आसान हो जाएगा और पंजाब के इस क्षेत्र के लोगों को नालागढ़ सहित प्रदेश की राजधानी शिमला को वाया कुनिहार होकर जाने में भी सुगमता होगी। इस नए मार्ग के बनने से जहां नालागढ़-बद्दी हाईवे पर लगने वाले जाम से छुटकारा मिलेगा। हालांकि सिसवां वाले मार्ग से चंडीगढ़ की दूरी कम हो गई है, लेकिन नालागढ़ से लखनपुर झीड़ा होकर बनने वाले इस नए मार्ग से चंडीगढ़ की दूरी और कम हो जाएगी। यहां मात्र चार किलोमीटर सड़क का ही निर्माण किया जाना है, जिससे नालागढ़ से लखनपुर वाली बनी हुई सड़क और माजरी गांव के आगे परखाली वाली बनी हुई सड़क से इसकी कनेक्टिविटी होनी है।

लोक निर्माण विभाग नालागढ़ मंडल के एक्सईएन अजय शर्मा ने बताया कि दो किलोमीटर सड़क निर्माण कार्य के टेंडर हो चुके हैं और संबंधित ठेकेदार को एक पखवाड़े का समय दिया है। यदि ठेकेदार ने काम शुरू नहीं किया तो उसका ठेका रद किया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस