संवाद सूत्र, राजगढ़ : प्रदेश में पंचायत सचिव पुलिस व स्वास्थ्य कर्मचारियों की तरह कोरोना से निपटने के लिए दिन-रात सेवाएं दे रहे हैं। ऐसे में पंचायत सचिव भी बीमारी की चपेट में आ सकते हैं। पंचायतीराज अधिकारी एवं कर्मचारी संघ सिरमौर के अध्यक्ष विक्रम ठाकुर ने सरकार से मांग की है कि पंचायत सचिव को भी कोरोना योद्धाओं में शामिल किया जाए तथा उनका 50 लाख रुपये का बीमा करवाया जाए। पंचायत सचिव श्रमिक के रहने, खाने-पीन, पंचायत क्षेत्र में कौन आया-कौन गया इसका पूरा लेखा-जोखा तैयार कर प्रशासन को दे रहे हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस