जागरण संवाददाता, नाहन : हिमाचल नारकोटिक्स क्राइम कंट्रोल व सिरमौर पुलिस ने पांवटा में बड़ी मात्रा में नशीली दवाएं बरामद की हैं। हिमाचल में अब तक की सबसे बड़ी नशीली दवाओं की खेप हो सकती है।

वीरवार रात नारकोटिक्स व पुलिस टीम ने पांवटा साहिब के एक गोदाम में दबिश देकर देर रात व शुक्रवार शाम तक नशीली दवाओं की गिनती की। टीम को 9508 प्रतिबंधित दवाओं की शीशियां और 46 हजार कैप्सूल बरामद हुए हैं। इन दवाओं पर किसी भी कंपनी का लेबल नहीं है। पुलिस को आशंका है कि दवाएं किसी उद्योग में अवैध तरीके से बनाई जा रही थी। जिस गोदाम में दवाएं रखी थी। वह गोदाम एक निजी उद्योग के दो कर्मचारियों दिनेश व रामस्वरूप ने किराये पर लिया हुआ था। पांवटा पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

प्रदेश नारकोटिक्स क्राइम कंट्रोल को गुप्त सूचना मिली थी कि पांवटा साहिब के एक उद्योग में नशीली दवाएं बनाई जा रही हैं। जिन्हें पुरुवाला के एक गोदाम में रखा गया है। इस पर नारकोटिक्स क्राइम कंट्रोल व पांवटा पुलिस ने दबिश देकर दवाओं का जखीरा बरामद किया है। पुलिस अधीक्षक अजय कृष्ण शर्मा ने बताया छानबीन की जा रही है। जल्द नशीली दवाओं का कारोबार करने वाले आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस