जागरण संवाददाता, शिमला : शिमला सदर थाने में रविवार को थाना प्रभारी संदीप चौधरी ही अध्यक्षता में नशा निवारण समिति की पहली बैठक हुई। थाना प्रभारी ने शिमला शहर में बढ़ते नशे के व्यापार पर चिंता जताते हुए समिति के सदस्यों से नशे को समाप्त करने की मुहिम में सहयोग देने की अपील की। उन्होंने बताया कि समाज को नशामुक्त बनाने के लिए जनता की भावी राय व पूर्ण सहयोग की आवश्यकता है। बच्चों पर बढ़ते नशे के दुष्प्रभाव को रोकने के लिए पुलिस व जनता को एकजुटता से काम करना होगा।

समिति के सदस्यों को निर्देश दिए कि अपने आसपास के माहौल पर नजर रखें और यदि कोई भी व्यक्ति किसी भी प्रकार की संदिग्ध गतिविधि में लिप्त पाया जाता है तो इसकी सूचना पुलिस को दें। अभिभावकों से अपने बच्चों की दिनचर्या व उनकी संगत पर ध्यान देने की गुजारिश की। बैठक में समिति के 50 सदस्यों ने भाग लिया।

Posted By: Jagran