जागरण संवाददाता, शिमला : शहर में नगर निगम की अनुमति के बिना पोस्टर, होर्डिग लगवाने वालों के खिलाफ अब एफआइआर होगी। वीरवार को नगर निगम के हाउस में इस फैसले को मंजूरी दी गई। विभिन्न वार्डो के पार्षदों का कहना है कि कई साल से शहर में लोग मनमाने ढंग से पब्लिक प्रॉपर्टी में पोस्टर व होर्डिग लगवा रहे हैं। ऐसे में शहर में गंदगी फैल रही है। पब्लिक प्रॉपर्टी की दीवारों, खंभों, शौचालय, वर्षाशालिकाओं को लोग ऐसा करके गंदा कर रहे हैं। इसमें तय किया गया कि मौके पर जेई की टीम जाएगी और संबंधित स्थान की फोटो खींचकर आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। यूडी की मंजूरी के बाद होगा बीपीएल सर्वे

इसके अलावा शहरी विकास विभाग (यूडी) की मंजूरी के बाद शहर में बीपीएल सर्वे होगा। सर्वे में विभिन्न वार्डो में बीपीएल राशन कार्ड धारकों का सर्वे होगा, इसमें फर्जी बीपीएल कार्ड धारकों की पहचान की जाएगी जोकि पात्रता न होते हुए गरीब के हक का राशन डकार रहे हैं। यह निर्णय भी हाउस में सर्वसम्मति से पास हुआ। शहर के प्रवेश द्वार पर लगेंगे गेट

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत राजधानी शिमला के चार प्रमुख प्रवेश द्वारों पर स्वागत गेट लगाए जाएंगे। यह गेट शहर के तारादेवी, टुटू, संजौली ढली और पंथाघाटी मैहली में लगाए जाएंगे। ये गेट हेरिटेज लुक के होंगे और यहां पर स्थानीय लोगों व पर्यटकों को शिमला पहुंचने व शहर से संबंधित आवश्यक जानकारी मिल सकेगी। बैठक में इसे मंजूरी प्रदान की गई। निगम कर्मचारियों को एंडवास

इसके अलावा नगर निगम के हजारों कर्मचारियों को इस बार दीपावली पर 20 हजार रुपये एंडवास देने को स्वीकृति दी गई है। नगर निगम हर साल कर्मचारियों को एंडवास देता है जिसे कर्मचारी 10 किश्तों में चुका सकते हैं। नगर निगम के करीब 650 कर्मचारियों को इसका लाभ मिल सकेगा। यह राशि निगम के फंड से ऋण स्वरूप दी जाएगी। एमसी एक करोड़ 30 लाख की राशि को कर्मचारियों को एडवांस के रूप में देगा जिसका भुगतान बाद में कर्मचारी कर सकेंगे।

लिफ्ट कार पार्किग में शिफ्ट होगा सिलाई सेंटर

रानी झांसी पार्क में चल रहे सिलाई सेंटर को नगर निगम के लिफ्ट स्थित भवन में शिफ्ट किया जाएगा। बैठक में नगर निगम द्वारा लीज आधार पर आवंटित की गई दुकानों, स्टालों, गोदाम, गैराज की लीज डीड का नवीनीकरण किया जाएगा। साथ ही शिमला शहर में सब्जी मंडी को दाड़नी के बगीचे में स्थानांतरित करने को लेकर बजट का प्रावधान किया गया। वहीं निगम की सभी शाखाओं को एक ही भवन में शिफ्ट किया जाएगा। सब्जी मंडी मैदान में निगम भवन का निर्माण करेगा जहां एक ही छत के नीचे निगम कार्यालय होगा। बैठक में कोविड-19 के कारण मरने वालों के लावारिश शव का दाह संस्कार आपदा प्रबंधन से करने का निर्णय भी लिया गया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस