शिमला, जागरण संवाददाता। शिमला में रविवार को कोरोना संक्रमण के पांच मामले सामने आए हैं। शिमला के संजौली में रहने वाली महिला कर्मी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद हड़कंप मच गया है। महिला कोरोना संक्रमण की चपेट में कैसे आई, इसकी जांच की जा रही है। महिला की ट्रेवल और कांटेक्‍ट हिस्ट्री का खुलासा होना अभी बाकी है। महिला संजौली के चिल्ड्रन पार्क के समीप घर में रहती है और जीपीओ (जनरल पोस्ट ऑफिस) मालरोड शिमला में काम करती है।

महिला 27 जुलाई को बुखार का चेकअप करवाने के लिए मालरोड के एक क्लीनिक में गई थी। दवाई लेकर महिला को जब बुखार से आराम नहीं मिला तो वह 30 जुलाई को ऑफिस के बाद आइजीएमसी में चेकअप करवाने गई। आइजीएमसी में महिला का कोरोना का सैंपल लिया गया। कोरोना की रिपोर्ट लेने के लिए महिला 31 जुलाई के दिन संजौली से बस लेकर आइजीएमसी पहुंची। रिपोर्ट तैयार न होने के कारण पहली अगस्त को आइजीएमसी से रिपोर्ट मिली, जो कोरोना पॉजिटिव पाई गई। महिला के घर पर पति और दो बेटियां हैं। महिला के संक्रमित होने के बाद जल्द ही उसके परिवार के सदस्यों के सैंपल भी लिए जाएंगे।

सीएमओ शिमला डॉ. सुरेखा ने बताया कि महिला को रिपन शिफ्ट कर लिया गया है। वहीं एसडीएम शिमला ग्रामीण मनोज कुमार का कहना है कि महिला जिस घर में रहती थी, उस पूरे भवन को सील कर दिया गया है। साथ ही उसके परिवार के सदस्यों को होम क्वारंटाइन किया गया है।

क्लीनिक व जीपीओ सील करने अभी नहीं लिया फैसला

एसडीएम शहरी मंजीत शर्मा का कहना है महिला जिस क्लीनिक में चेकअप करवाने गई थी उसे अभी तक सील नहीं किया गया है। वहीं जीपीओ शिमला को सील करने पर भी अभी निर्णय नहीं लिया गया है। महिला की तबीयत खराब होने के बाद वह कुछ दिन तक घर पर ही रही, इसलिए महिला के संपर्क में अधिक लोगों के न आने की संभावना जताई जा रही है। स्वास्थ्य विभाग से परामर्श लेने के बाद ही इस पर फैसला लिया जा सकता है।

शनिवार देर रात को आठ मामले आए पाॅजिटिव

शनिवार देर रात को 8 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसमें पांच मामले रामपुर से आए हैं। ये सभी लोग पश्चिम बंगाल के रहने वाले हैं।  ये सभी लोग 19 जुलाई को रामपुर पहुंचे थे और यहां आकर 6 कमरों में क्वारंटाइन थे। स्वास्थ्य विभाग ने एहतियात के चलते इनके सैंपल लिए हैं, जो पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके अलावा एक व्यक्ति भराड़ी और एक व्यक्ति कुसुंपटी में पॉजिटिव पाया गया है। यह दोनों कांटेक्ट ट्रेसिंग में सामने आए हैं। सभी कोरोना पॉजिटिव मरीजों को मशाेबरा शिफ्ट किया जा रहा है।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस