शिमला, जेएनएन। मंत्री पद छोड़ने वाले भाजपा विधायक अनिल शर्मा को विधायकों के सरकारी आवास मैट्रोपोल में रहना मंजूर नहीं है। वह चाहते हैं कि उन्हें विधानसभा के साथ तीन एमएलए हॉस्टलों में से किसी एक हॉस्टल में रहने की सुविधा दी जाए। अनिल शर्मा की ओर से मंगलवार को विधानसभा सचिवालय में आवास के लिए आग्रह पत्र दिया गया। विधानसभा सचिवालय प्रशासन के पास ओल्ड मैट्रोपोल में 601 नंबर एक सेट उपलब्ध है। इसके अतिरिक्त विधानसभा के साथ तीन एमएलए हॉस्टलों में कहीं भी कोई सेट खाली नहीं है। भाजपा विधायक को केवल एक सेट ही मिलेगा क्योंकि विधायकों के लिए कुल 72 सेटों में से केवल एक ही सेट खाली है।

अनिल शर्मा ने कहा कि वह मैट्रोपोल में नहीं रहेंगे। विधानसभा के साथ तीन एमएलए हॉस्टल हैं जहां मुझे रहने की सुविधा दी जाए। वहीं, विधानसभा में भाजपा के मुख्य सचेतक नियुक्त होने से पहले नरेंद्र बरागटा के पास मैट्रोपोल में 601 व 603 नंबर सेट हुआ करते थे। जैसे ही सरकार की ओर से उनकी नियुक्ति हुई, उन्हें सरकारी कोठी मिली। उसके बाद 603 नंबर सेट कांग्रेस विधायक सुखविंदर सुक्खू को मिल गया। अब मैट्रोपोल में केवल एक सेट खाली है।

अनिल शर्मा की ओर से आवास के लिए आग्रह पत्र प्राप्त हुआ है। उन्हें एक-दो दिनों के भीतर आवास दे दिया जाएगा। अभी हमारे पास मैट्रोपोल में ही आवास की सुविधा है। -यशपाल शर्मा, सचिव, विधानसभा सचिवालय

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप