संवाद सहयोगी, सरकाघाट : उपमंडल में बन रही सबसे बड़ी पेयजल उठाऊ पेयजल योजना कांडापतन रोपड़ी चौक परसदा हवानी जझैल का निर्माण कार्य छह माह पहले ही पूरा कर लिया गया है। इस कार्य को आरके इंजीनियरिग कंपनी ने पूरा किया। 27 करोड़ की पेयजल योजना के लिए 24 माह का समय निर्धारित था लेकिन कंपनी ने 18 महीने में इसे पूरा कर लिया है।

जल जीवन मिशन के तहत चल रहे इस प्रोजेक्ट के पूरा होने पर लगभग 2000 घरों को नल का कनेक्शन भी उपलब्ध करवा दिया गया है। सरकाघाट उपमंडल की चार पंचायतों के लोगों को इस योजना से लाभ होगा। लखनऊ की आरके इंजीनियरिग कंपनी ने जनवरी 2020 में इस योजना का टेंडर मिला था। योजना मार्च 2022 में पूरी की जानी थी, परंतु कंपनी ने 26 अगस्त को जनता को यह योजना मुख्यमंत्री के माध्यम से सौंप दी। उठाऊ पेयजल योजना रोपड़ी चौक परसदा हवानी जझैल के लिए कांडापतन व्यास दरिया से पानी लिफ्ट किया गया है। इन पंचायतों में पानी पहुंचाने के लिए 74 किलोमीटर डिस्ट्रीब्यूशन पाइपलाइन बिछाई गई जिसमें 16 किलोमीटर मेन राइजिग लाइन थी । योजना के तहत चार मेन टैंक एक लाख प्रति लीटर क्षमता के तैयार किए गए। साथ ही 12 डिस्ट्रीब्यूशन टैंक और कंगर कोठी और बहरी में दो पंप हाउस बने हैं। कंपनी के डायरेक्टर अर्जुन सिंह राठौर की माने तो 27 करोड की इस योजना को कंपनी के इंजीनियरों ने इसे करके दिखाया है । हालांकि 2020 में 5 महीने तक कोविड-19 के कारण काम रोकना पड़ा था, फिर भी काम जल्द पूरा किया गया है।

---------------

सरकाघाट की इन दुर्गम क्षेत्रों की पांच पंचायतों के लिए अब तक की सबसे बड़ी और उठाओ पेयजल योजना का रिकॉर्ड समय में कंपनी के कर्मठ कर्मचारियों द्वारा पूरा किया है द्य विभाग ने कम्पनी को पूरा सहयोग किया था।

-एलआर शर्मा, एक्सईएन जलशक्ति विभाग सरकाघाट।

Edited By: Jagran