संवाद सहयोगी, जोगेंद्रनगर : बालकरूपी गांव में पेयजल किल्लत से परेशान ग्रामीणों ने वीरवार को विभाग के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। लोगों ने खाली बर्तन लेकर जोगेंद्रनगर-बालकरूपी सड़क पर प्रदर्शन किया। गांव के लगभग 50 परिवारों को पेयजल नहीं मिल रहा है। अधिकारियों को बताने के बावजूद समस्या का हल नहीं हुआ, तो वीरवार को लोग उग्र हो गए।

पेयजल उपभोक्ता अनूप सूद, दिनेश, राकेश, अनुज, रजनीकांत, रविकांत, अश्वनी शर्मा, कृष्ण देवी, विधु सूद और सरिता का आरोप है कि एक सप्ताह से पानी नहीं आ रहा है। इसकी लिखित शिकायत पत्र जलशक्ति विभाग और जन प्रतिनिधियों को भी सौंपा जा चुका है, लेकिन कोई भी साकारात्मक कदम नहीं उठाया गया। गांव की रेणू सूद, मीनाक्षी, रीमा, अंजू बाला, अमरनाथ, आदित्य शर्मा, देशराज का कहना कि तीन साल से ऐसे ही समस्या हल साल गर्मियों में आती है। इस बार भी पानी न आने के कारण प्राकृतिक स्त्रोतों पर ही निर्भर रहना पड़ रहा है। बार-बार अधिकारियों को कहने के बावजूद समस्या हल नहीं हो पा रही है। हैरानी तो इस बात की है कि विभागीय अधिकारी भी समस्या का पता नहीं लगा पाए हैं। अगर जल्द समस्या का समाधान नहीं हुआ तो राष्ट्रीय राजमार्ग पर चक्का जाम करने से परहेज नहीं करेंगे और विभाग के कार्यालय का घेराव भी होगा।

---------

बालकरूपी गांव के कुछ परिवारों को पेयजल किल्लत का मामला मेरे ध्यान में लाया गया है। अधिकारियों को मौके की रिपोर्ट में प्रेषित करने के निर्देश दिए।

-राजेश मोंगरा, अधिशाषी अभियंता जलशक्ति विभाग जोगेंद्रनगर।

------------

जलशक्ति विभाग के कनिष्ठ अभियंता को पानी की समस्या का असल कारण पता लगाने के लिए मौके पर भेजा था। सप्ताह के भीतर पानी की समस्या का समाधान किया जाएगा। मैं स्वयं भी निरीक्षण करूंगा।

-प्रदीप राठौर, सहायक अभियंता जलशक्ति विभाग जोगेंद्रनगर।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस