जागरण संवाददाता, मंडी : मंडी शहर में विकास कार्यों को गति देने तथा विभिन्न विभागों के साथ बेहतरतालमेल व समन्वय स्थापित करने के उद्देश्य से सोमवार को नगर परिषद मंडी की बैठक हुई। इसकी अध्यक्षता ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा ने की। उन्होंने कहा कि शहर में नगर परिषद की अति महत्वपूर्ण भूमिका है। कमेटी का लोगों को बेहतर सुविधा उपलब्ध करवाना मुख्य उद्देश्य है। शहर में अधिकतर सीवरेज की पाइपें पुरानी हो चुकी हैं। उन पर दबाव भी बढ़ता जा रहा है। सीवरेज व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए ढाई करोड़ की व्यवस्था की गई है। इससे छूटे हुए घरों को कनेक्शन दिए जाने के साथ नई पाइपें भी बिछाई जाएंगी। विभागीय तालमेल के साथ कूड़ा कचरा प्रबंधन पर विशेष ध्यान दिया जाना आवश्यक है तथा घर-द्वार से कूड़ा एकत्रीकरण के अतिरिक्त इधर-उधर बिखरे कूडे़ का निपटारा किया जाना चाहिए। उन्होंने बैठक में विभिन्न विभागों के साथ शहर में विद्युत, पेयजल, सीवरेज नालियों व रास्तों की मरम्मत, पार्किंग आदि पर भी समस्त पार्षदों के साथ विचार विमर्श किया। सभी के सुझाव व शिकायतों पर भी गौर किया गया। उन्होंने पड्डल मैदान में आउटडोर जिम तथा शहर में वैकल्पिक मार्ग व घाटों का निर्माण करने संबंधी संभावनाएं तलाशने का आग्रह सभी पार्षदों व विभागीय अधिकारियों से किया।  विभिन्न विभागों के साथ तालमेल बनाए रखने के उद्देश्य से एक वाट्सएप ग्रुप बनाने के निर्देश दिए। बैठक में नगर परिषद के उपाध्यक्ष वीरेंद्र शर्मा, समस्त पार्षदगण, कार्यकारी अधिकारी, नगर परिषद मदन कुमार सहित अन्य विभागों केअधिकारी भी मौजूद थे।

----------------

चरणबद्ध ढंग से पूर्ण होंगे निर्णय

नगर परिषद अध्यक्ष सुमन ठाकुर ने बताया कि शहर की विद्युत, पेयजल, सीवरेज तथा सफाई व्यवस्था को बेहतर बनाए रखने के लिए बैठक कारगर साबित होगी तथा भविष्य में इस तरह की बैठकों का आयोजन किया जाएगा। उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने कहा सभी विभागों के आपसी तालमेल से बैठक में लिए गए निर्णयों को चरणबद्ध ढंग से पूरा किया जाएगा।

Posted By: Jagran