सुंदरनगर, जेएनएन। बीबीएमबी पुलिस कर्मियों की ज्यादतियां थमने का नाम नहीं ले रही हैं। दूध सप्लाई रोकने के मामले के उपरांत अब पुलिस अखबारों के वितरण पर भी पाबंदी लगा रही है और विक्रेताओं को धमका रही है। जिससे पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं। कॉलोनी के जीवन न्यूज़ एजेंसी के मालिक जीवन कुमार का कहना है कर्फ्यू को लगे हुए 7 दिन हो गए हैं।

अखबारों की सप्लाई डोर टू डोर वितरण करना उनके लिए काफी परेशानी का सबब बना हुआ है। जो भी एर्जेंट डोर टू डोर अखबारों का वितरण करने के लिए जाता है, तो उसे पुलिस के अभद्र व्यवहार का सामना करना पड़ता है। अब बीएसएल थाना पुलिस ने अखबार काउंटर बंद करने व उनके वाहन को जब्त करने की धमकी दी है। यदि उन्हें पुलिस की ज्यादती से निजात नहीं मिली तो वह कर्फ्यू के दौरान अखबारों का वितरण कैसे कर पाएंगे।

उन्होंने प्रशासन और हिमाचल सरकार से मांग की है कि जब आवश्यक वस्तुओं की श्रेणी में अखबारों को और उनके वितरकों को शामिल किया गया है तो पुलिस इस तरह का रवैया आम जनता और अखबारों के साथ क्यों कर रही है। उधर एसडीएम सुंदरनगर राहुल चौहान और डीएसपी गुरबचन सिंह सुंदरनगर का कहना है कि आवश्यक वस्तुओं की क्रय विक्रय समेत अखबारों के वितरण पर किसी भी तरह की कोई रोक नहीं है। अगर इस तरह का मामला है तो जल्द उचित कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस