सहयोगी, सुंदरनगर : पंचायत समिति सुंदरनगर की बैठक में मंगलवार को जमकर हंगामा हुआ। सदस्यों ने बैठक की सूचना समय पर न देने और अधिकारियों को भी न बुलाने पर नाराजगी जाहिर की।

पंचायत समिति के 30 सदस्यों में से 12 सदस्यों ने बैठक में आमंत्रित न करने का आरोप लगाया है। वही पंचायतों द्वारा करोड़ों रुपये के पंचायत समिति से मंजूरी के लिए भेजे प्रस्ताव पर भी विरोध जताया। पंचायत समिति सदस्यों ने कहा कि पंचायतों द्वारा बीडीसी सदस्यों को ग्राम सभाओं में आमंत्रित किया जाता है और न ही पंचायतों में बैठने तक की व्यवस्था की गई है।

ऐसे में पंचायतों द्वारा डाले गए सेल्फ को लेकर भी सवाल खड़े किए गए हैं। सेल्फ के जनहित और लोगों से जुड़े न होने के मनमर्जी के पास किए गए कार्यों को लेकर विरोध जताया गया है। मंगलवार को सुंदर नगर पंचायत समिति के चेयरमैन राज कुमार की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विकास खंड अधिकारी सुरेंद्र कुमार ठाकुर ने पंचायत समिति के बजट को एलोकेट करने, पंचायत समिति सभागार के ऊपर बनाए गए पंचायत समिति के गेस्ट हाउस में फर्नीचर की खरीद करने, दुकानों और पार्किंग के मामले रखे। इस दौरान समिति सदस्यों ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों से किए गए सवालों के जवाब पर समीक्षा की और सेल्फ अप्रूवल के लिए चर्चा की गई।

बैठक में पंचायत समिति का बजट पास किया गया। इस अवसर समिति के अध्यक्ष राजकुमार, उपाध्यक्ष वीरेंद्र ठाकुर सहित 28 सदस्य उपस्थित रहे है। बीडीओ सुरेंद्र ठाकुर ने कहा कि कोविड नियमों के अनुसार ही बैठक बुलाई गई थी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021