संवाद सहयोगी, सरकाघाट : सरकाघाट की पौंटा पंचायत के खरसल गांव के अनिरुद्ध शर्मा भारतीय वायुसेना में फाइटर प्लेन राफेल उड़ाएंगे। उन्होंने अत्याधुनिक तकनीक से निर्मित फाइटर प्लेन राफेल को उड़ाने का प्रशिक्षण पूरा कर लिया है। इसमें वह प्रथम स्थान पर रहे हैं।

अनिरुद्ध शर्मा की जमा दो तक की शिक्षा गाजियाबाद (उत्तर प्रदेश) के जयपुरिया पब्लिक स्कूल से की है। जमा दो में उत्तर प्रदेश में प्रथम स्थान पर रहने के बाद भारतीय सेना में जाने के लिए एनडीए की परीक्षा पहले ही प्रयास में अखिल भारतीय स्तर पर 12वें रैंक से उत्तीर्ण की।

उन्होंने सैन्य अकादमी खड़गवासला पुणे में तीन वर्षीय सैन्य कोर्स और डिग्री हासिल की। डिग्री में प्रथम स्थान पर रहकर एक वर्ष के वायुसेना प्रशिक्षण के लिए वायुसेना अकादमी हैदराबाद में प्रवेश लिया। अनिरुद्ध की योग्यता को देखते हुए वायुसेना अधिकारियों ने उन्हें अत्याधुनिक तकनीक से निर्मित फाइटर प्लेन राफेल को उड़ाने का प्रशिक्षण दिया। उसमें भी वह प्रथम स्थान पर रहे। हाल ही में प्रशिक्षण पूरा होने के साथ वायुसेना की भव्य परेड में उनके कंधे पर पिता प्रवीण कुमार और माता अनिता शर्मा ने स्टार लगाकर गौरवान्वित अनुभव किया।

अनिरुद्ध के पिता प्रवीण कुमार ने बताया कि वह बचपन से ही आकाश में उड़ते हुए हवाई जहाज को देखकर हमेशा जहाज उड़ाने की बात करता था। 18 वर्ष की आयु में ही एनडीए की परीक्षा पास कर उसने अपने सपनों को साकार किया। अनिरुद्ध के फाइटर प्लेन पायलट बनने की खुशी में इनके दादा सेवानिवृत्त अध्यापक ईश्वर दास ने भव्य समारोह का आयोजन किया और अपने स्वजन के साथ-साथ ग्रामीणों के लिए भी प्रीतिभोज का आयोजन किया। अनिरुद्ध के पिता प्रवीण कुमार बैंक अधिकारी हैं और माता गृहिणी हैं। छोटी बहन निवेदिता शर्मा पढ़ाई कर रही हैं। अनिरुद्ध की इस सफलता पर इनके दादा ईश्वर दास, दादी हेमलता, चाचा नवीन कुमार सहित सभी स्वजन ने बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

Edited By: Jagran