मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संवाद सहयोगी, मंडी : जिला मुख्यालय मंडी में अखिल भारतीय कमेटी सीटू के आह्वान पर सीटू जिला कमेटी मंडी ने महंगाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। धरना प्रदर्शन के दौरान सेरी मंच पर सीटू के सचिव राजेश कुमार ने कहा कि पिछले तीन माह में रसोई गैस की कीमतों में 230 रुपये की बढ़ोतरी की गई है। महंगाई लगातार बढ़ रही है लेकिन केंद्र सरकार इस पर कोई नियंत्रण करने की बजाए जनता के साथ खिलवाड़ है। तीन साल पहले जब केंद्र सरकार बनी तो कहा गया कि महंगाई को खत्म किया जाएगा। इसके बावजूद केंद्र सरकार महंगाई बढ़ाने पर तुली हुई है। सब्जियों के दामों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है, जिससे गरीब लोग परेशान हो गए हैं। टमाटर 70 रुपये प्रति किलो हो गया है तथा 80 रुपये किलो बिक रहा है। केंद्र सरकार लगातार झूठ बोल रही है कि महंगाई कम करेंगे। नोटबंदी और जीएसटी से 70 लाख नौकरियां चली गई, बेरोजगारी लगातार बढ़ रही है। सरकार गरीबों को कह रही है कि सब्सिडी छोड़ दो, जबकि दूसरी तरफ बड़े उद्योगपतियों को करोड़ों रुपये की सब्सिडी तथा टैक्स में छूट दी जा रही है। सरकार बड़े उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए सब कुछ कर रही है। अनाज के कारोबार में सट्टा लगाया जा रहा है। उद्योगपतियों को लाभ मिल रहा है और किसान बेहाल हो रहे है। केंद्र सरकार द्वारा मजदूरों और किसानों पर हमले कर रही है खाद और बीज महंगे दामों में मिल रहे हैं।

किसान का प्याज पिछले दिनों एक रुपये प्रति किलो खरीदा गया और आज वही प्याज 80 रुपये प्रति किलो बेचा जा रहा है। सीटू मंडी के सचिव राजेश कुमार ने कहा कि यदि केंद्र सरकार आने वाले दिनों में इस महंगाई को नहीं रोक पाई तो सीटू अखिल भारतीय स्तर पर एक बड़ा आंदोलन करेगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप