जागरण संवाददाता, मनाली : पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां लेकर उनकी दत्तक पुत्री नमिता भट्टाचार्य बुधवार को मनाली पहुंच गईं। नमिता ने अटल जी की अस्थियों को प्रीणी के ग्रामीणों को सौंपा। नमिता के प्रीणी पहुंचते ही ग्रामीण अपने मुखिया के घर एकत्रित हो गए। ग्रामीणों ने अटल जी की अस्थियों पर श्रद्धासुमन अर्पित किए।

कभी खुशी-खुशी नमिता का स्वागत करने वाले ग्रामीण आज नम आंखों से उनसे मिले। दुख की इस घडी में नमिता भट्टाचार्य भी भावुक हो उठीं। ग्राम पंचायत प्रधान शिवदयाल ठाकुर, पूर्व प्रधान ठाकुर दास, पूर्व प्रधान कुंदन लाल और उपप्रधान रोशन ठाकुर, कारदार लोत राम सहित सभी ग्रामीण अपने मुखिया अटल जी के घर पहुंचे और मुखिया को श्रद्धासुमन अर्पित किए। ग्रामीणों ने नमिता के साथ विचार-विमर्श किया और अस्थियों को विसर्जित करने पर भी चर्चा की।

अटल जी के नजदीकी रहे पूर्व प्रधान कुंदन, ठाकर दास और शिवदयाल ने बताया कि ग्रामीणों के लिए यह पल भावुकता भरे रहे। अटल से मिला स्नेह हमेशा उनकी याद दिलाता रहेगा। उन्होंने बताया कि वीरवार को नमिता भट्टाचार्य के नेतृत्व में अटल जी की अस्थियों को वशिष्ठ चौक के पास विधिवतपूर्वक ब्यास नदी में विसर्जित किया जाएगा।

इस अवसर नमिता के साथ रंजन भंट्टाचार्य, अनूप मिश्रा व निहारिका भी थीं।

Posted By: Jagran