मनाली, जसवंत ठाकुर। कंगना रणौत जल्द ही तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता पर आधारित उनकी आगामी फिल्म थलाईवी में नजर आएगी। फ़िल्म में मुख्य अभिनेत्री की भूमिका निभाने जा रही कंगना ने अपने मनाली घर से ही तैयारियां शुरू कर दी है। फ़िल्म में भरतनाट्यम नृत्यांगना और तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता ने अपने गुरु करिक्कल जगदीशन सारसा से नृत्य की बारीकियां सीखी थी। कंगना इन सभी विषयों को ध्यान में रखकर भरतनाट्यम नृत्य सीख रही है।

गौर हो कि जयललिता मुख्यमंत्री के साथ-साथ एक अच्छी एक्ट्रेस और भरतनाट्यम नृत्यांगना थी। कंगना 28 अक्टूबर को मनाली स्थित अपने घर सिमसा में दीपावली मनाने आई थी। तब से कंगना घर पर ही है। सूत्र बताते है कि अगले सप्ताह कंगना के भाई की सगाई होने जा रही है। जिसके चलते कंगना के अभी एक सप्ताह तक मनाली में ही रहने का कार्यक्रम है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कंगना अपने मनाली घर मे ही तमिल फिल्म की तैयारियों में जुटी हुई है। कंगना भरतनाट्यम नृत्य सीखने के साथ-साथ तमिलनाडु की पूर्व सीएम स्वर्गीय जयललिता के राजनीतिक जीवन पर भी अध्ययन कर रही है। कंगना के पड़ोसी शालू बागवान, मकरध्वज शर्मा व मोती राम ने बालीवुड स्टार कंगना रणौत  को तमिल फिल्म के लिये शुभकामनाएं दी।

बॉलीवुड स्टार कंगना रणौत आज कल अपने मनाली स्थित घर में रह रही हैं,  मंगलवार को घर में दिनभर घर में ही रहीं। उन्होंने मनाली में खिली धूप का आनंद उठाया और बालकनी से हामटा की पहाड़ियों को निहारा। कंगना ने घर का डिजाइन अपने हिसाब से करवाया है। सर्दियों में धूप लगने वाली जगह पर बालकनी बनाई गई है। कंगना दीपावली मनाने रविवार को मनाली आई थीं। एक सप्ताह तक मनाली में ही सुकून के पल बिताएंगी।

Himachal weather Update: ऊंची चोटियों पर बर्फबारी, कभी भी बंद हो सकता है ये मार्ग

सूत्रों की मानें तो कंगना दीपावली मनाने के साथ-साथ भाई अक्षत की सगाई के लिए मनाली  आई हैं। बड़ी बहन रंगोली व कंगना का परिवार भी मनाली में है। उनके पड़ोसी ने बताया कि मंगलवार को कंगना दिनभर घर की बालकनी में धूप सेंकती रही। पिता अमनदीप रणौत के मुताबिक कंगना अभी कुछ दिन मनाली में ही रुकेंगी। 

महिला पर्यटकों के सेनेटरी पैड से अब नहीं फैलेगी गंदगी, होटलों में होगा ये खास इंतजाम 

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप