जागरण संवाददाता, मनाली : अंतरराष्ट्रीय रौरिक मेमोरियल ट्रस्ट नग्गर में आयोजित प्रदर्शनियों से आर्ट गैलरी में रौनक बढ़ गई है। सोमवार को चंडीगढ़ की मशहूर चित्रकार एवं कला क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कलाकार पूर्व सेक्रेटरी ललित कला अकादमी साधना संगर के नेतृत्व में छह महिला कलाकारों की चित्रकला प्रदर्शनी लगाई गई। प्रदर्शनी का शुभारंभ रश्यिन क्यूरेटर लारिसा सुरगिना व इजरायल से आए अतिथियों ने किया। प्रदर्शनी से साधना संगर ने संदेश समाज को दिया है कि आज महिलाएं भी किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं हैं। यहां उनके साथ छह महिला चित्रकार हैं। जिनमें हर एक का कला क्षेत्र है। प्रदर्शनी में कुरुक्षेत्र की कलाकार किरन शर्मा ने ऑयल कलर का प्रयोग करके प्रकृति को विभिन्न चित्रों के माध्यम से दर्शाया है। मथुरा की कलाकार उमा शर्मा ने पहाड़ के रंग बिना ब्रश एवं रंगों के केवल कागज के टुकड़ों का प्रयोग कर के दर्शाया है। मथुरा से ही कलाकार वर्शा ने अमूर्त कला को मूर्त किया है। साधना संगर ने नग्गर, कुल्लू के सेब के बगीचों को कला में साकार किया है। अंबाला की गगन व चंडीगढ़ की भारती शर्मा ने प्रकृति व संस्कृति के विभिन्न रूपों को कला में उकेरा है। प्रदर्शनी को अमरजीत आनंद, प्रमुख बौद्धिष्ठ स्कॉलर छे¨रग दोरजे, दमित्री सुरगिन, रामलाल, केहर चंद, खेम करण, तेजराम, संजय दत्त व विदेशी पर्यटकों ने निहारा।

Posted By: Jagran