कुल्लू : मुख्यमंत्री वीरभद्र ¨सह द्वारा कुल्लू में संस्कृत महाविद्यालय खोलने के आश्वासन दिए जाने पर घाटीवासी व संस्कृत के विद्वानों ने खुशी जताई है। इसको लेकर हिमाचल साहित्य शिखर से सम्मानित मौलू राम ठाकुर, पूर्व मंत्री एवं भुट्टिको के अध्यक्ष सत्य प्रकाश ठाकुर, साहित्यकार छे¨रग दोरजे, इतिहास संकलन समिति के राज्य उपाध्यक्ष मोती लाल शर्मा, मनमोहन गौतम, तेज राम नेगी, पूर्ण देव शास्त्री, हरि ¨सह प्रधान, इंद्र देव शास्त्री, धनी राम चौहान, डॉ. दयानंद गौतम, प्रेमलता ठाकुर, डॉ. सीता राम ठाकुर, ईश्वर दास शर्मा, डॉ. विद्या चंद ठाकुर, डॉ. सूरत ठाकुर आदि ने मुख्यमंत्री वीरभद्र ¨सह को आभार प्रकट करते हुए कहा कि कुल्लू में संस्कृत महाविद्यालय व संस्कृत पुस्तकालय की स्थापना एक मील का पत्थर होगा। इससे देवभूमि कुल्लू की देव संस्कृति के शास्त्रीय पक्ष को समझने में लोगों को सुविधा होगी।

पुजारी संघ के अध्यक्ष इंद्र देव शास्त्री व उपाध्यक्ष धनी राम चौहान ने कहा कि परशुराम भवन, संस्कृत कालेज व संस्कृत पुस्तकालय स्थापित करने की दिशा में उठाया गया कदम केवल ऐतिहासिक है।