संवाद सहयोगी, आनी : जिला कुल्लू में अब एक नए एनएच को मंजूरी मिल गई है। आनी विधानसभा क्षेत्र के विधायक किशोरी लाल सागर द्वारा केंद्रीय भूतल एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के समक्ष रखी गई आनी और निरमंड खंडों के शमशर-दलाश-निथर-नौर-बजीरबावड़ी-ब्रो-काजूखड्ड-झाकड़ी सड़क को एनएच का दर्जा देने की मांग रखी थी। यह प्रदेश का 70वां नेशनल हाइवे बनेगा। इसकी जानकारी मिलते ही क्षेत्रवासियों में खुशी की लहर दौड़ गई है। इस 148 किलोमीटर लंबे एनएच को मंजूरी मिलने से पड़ोसी देश चीन की सीमा को किन्नौर और लाहुल-स्पीति से जोड़ने में यह अहम भूमिका निभाएगा। सीमा के एक छोर से दूसरे छोर को जोड़ने वाला यह सबसे कम दूरी के मार्गों में से एक होगा। सैंज-आनी-औट एनएच 305 को यह मार्ग शिमला-तिब्बत एनएच-5 से झाकड़ी में जोड़ेगा।

----------------------

34 पंचायतों की 95000 जनता होगी लाभान्वित

इस एनएच के बन जाने से आनी और निरमंड खंडों की 34 पंचायतों की करीब 95 हजार जनता लाभान्वित हो सकेगी। सड़क के अपग्रेड हो जाने और बन जाने के बाद आनी विधानसभा क्षेत्र हर ओर से नेशनल हाइवे से जुड़ जाएगा। विधायक किशोरी लाल सागर ने कहा कि 148 किलोमीटर लंबे मार्ग को लेकर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सदन में भी चर्चा की। उन्होंने और मंडलाध्यक्ष अमर ठाकुर ने इसकी मंजूरी मिल जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा, सांसद रामस्वरूप शर्मा का आभार प्रकट किया है।

-------------------

क्या कहते हैं अधिकारी

एनएच अथॉरिटी के रामपुर डिवीजन के एक्सईएन पीसी नेगी ने बताया कि हालांकि सड़क के निश्चित रूट को लेकर अभी कह पाना मुश्किल है कि यह निथर से वाया जाजर होकर दलाश जाएगा या फिर वाया कटाहर होकर जाएगा। इस सड़क को सैद्धांतिक मंजूरी मिलने के बाद इसकी डीपीआर तैयार करने की कवायद शुरू हो जाएगी। कंसल्टेंसी के लिए पांच लाख रुपये प्रति किलोमीटर के हिसाब से प्राकलन तैयार कर भारत सरकार को मंजूरी के लिए भेजा जाएगा। इसके अनुमोदित होने के बाद निविदा आधारित प्राकलन तैयार कर नेशनल हाइवे के निर्माण कार्य को शुरू कर दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप