बरठीं, संवाद सहयोगी। Cylinder Explosion in Bilaspur, जिला बिलासपुर के विधानसभा क्षेत्र झंडूता की पंचायत मलांगण के जोहड़ गांव में स्थित क्रशर में काम करते समय गैस सिलेंडर फटने से एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि चार अन्य घायल हो गए। घायलों में तीन लोग दूसरे राज्य तथा एक व्यक्ति शिमला जिला के ठियोग का है। कामगार लोहे काटने का काम कर रहे थे कि अचानक सिलेंडर में धमाका हो गया। धमाका इतने जोर का था कि एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई।

घायलों को स्थानीय लोगों ने सिविल अस्पताल बरठीं पहुंचाया जहां उन्हें प्राथमिक उपचार दिया गया। उनकी स्थिति को देखते हुए उन्हें क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर रेफर किया गया। घायलों की पहचान 50 वर्षीय राजेंद्र, निवासी गांव लक्ष्मीपुर, जिला आजमगढ़, 22 वर्षीय सतीश कुमार, निवासी गांव दलौथा, जिला आजमगढ़ उत्तरप्रदेश, 29 वर्षीय सोनू कुमार निवासी गांव दुमराधीस, जिला पटना बिहार तथा क्रशर मैनेजर मनमोहन सिंह निवासी गांव ठियोग जिला शिमला के रूप में हुई है। मृतक की पहचान मोनू मौर्य निवासी जिला आजमगढ़ उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है। सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम थाना प्रभारी की अगुवाई में मौके पर पहुंच गई है तथा खबर लिखे जाने तक यह जानकारी उपलब्ध नहीं हो पाई थी कि सिलेंडर कैसे फटा। घायलों को एंबुलेंस 108 में क्षेत्रीय अस्पताल ले जाया गया है।

कनैड में पैरापिट से टकराई बस, सवारियां बची

मंडी जिला के उपमंडल सुंदरनगर के कनैड में फोरलेन के लिए पुली का अधूरा कार्य वाहन चालकों के लिए परेशानी का सबब बन गया है। रविवार देर शाम को सुंदरनगर-मंडी रूट पर आ रही बस पैरापिट से टकराई गई। उस समय बस में 20 से 25 सवारियां सवार थी। गनीमत यह रही कि किसी भी सवारी को चोट नहीं लगी। बस सुंदरनगर से जा रही थी कि पुली के साथ सड़क पर पड़े गड्ढों में टायर जाने से वह अनियंत्रित होकर पैरापिट से जा टकराई। इससे पहले भी दो ट्रक इस जगह पर फंस चुके हैं। लोगों ने फोरलेन निर्माण में जुटी कंपनी पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

Edited By: Virender Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट