जसूर, जेएनएन। पुलिस थाना क्षेत्र नूरपुर के तहत पंचायत छतरोली के बाटूपुल के नजदीक एक निजी टिंबर डिपो में आग लग गई। हादसे में लाखों रुपये के नुकसान का अनुमान है। टिंबर डिपो के अंदर रखी इमारती लकड़ी, प्लाई बोर्ड, लेमिनेटेड बोर्ड व फर्नीचर जलकर राख हो गया। आग की घटना का कारण शार्ट सर्किट होना बताया जा रहा है। पुलिस ने अाग की घटना को लेकर मामला दर्ज जांच शुरू कर दी है।

 

घटना मंगलवार रात 12 बजे के आसपास की बताई जा रही है। जिसमें बाटूपुल के नजदीक आरकेएम टिंबर इंडस्ट्री के एक गोदाम में अचानक आग लग गई। इस दौरान इंडस्ट्री के मालिक अपने घर चले गए थे। रात 12 बजे के करीब स्थानीय लोगों ने गोदाम से आग की लपटें उठती देखीं तो मालिक को फोन कर सूचना दी तथा आगजनी को लेकर अग्निशमन केंद्र नूरपुर को सूचित किया। सूचना मिलते ही फायरमैन करतार सिंह, बलजीत सिंह व रिंकू कुमार मौके पर पहुंचे।

 

सूखी लकड़ी व बोर्ड इत्यादि अन्य इमारती लकड़ी में आग काफी फैल चुकी थी, तभी फायर ब्रिगेड की फतेहपुर से एक और गाड़ी मंगवाई गई और दो गाड़ियों से पानी की तेज बौंठार से ढाई घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। लेकिन तब तक लाखों की इमारती लकड़ी आग की भेंट चढ़ चुकी थी। फायर चौकी नूरपुर के प्रभारी करतार सिंह ने बताया कि आग के कारण करीब 10 लाख का नुकसान होने का अनुमान है जबकि लाखों की संपत्ति को बचाया गया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस