मंडी, संवाद सहयोगी। SPU Mandi, सरदार पटेल विश्वविद्यालय मंडी की ओर से जून-जुलाई में आयोजित विभिन्न संकायों की दूसरे और चौथे सेमेस्टर की परीक्षाओं का परिणाम घोषित कर दिया है। घोषित परिणामों में एमबीए दूसरे सेमेस्टर का परीक्षा परिणाम 83.36 प्रतिशत रहा है, जिसमें जसप्रीत ङ्क्षसह ने 629 अंक व कुमारी सिया ने 626 अंक लेकर द्वितीय स्थान प्राप्त किया है। एमबीए चौथे सेमेस्टर का परीक्षा परिणाम में चंदन कपूर ने 619 अंक के साथ पहला व पूजा देवी ने 599 अंक लेकर दूसरा स्थान हासिल किया है।

एमए इतिहास के दूसरे सेमेस्टर का परिणाम भी घोषित हो गया है जिसमें विकास ठाकुर ने पहला, कोयला देवी ने दूसरा स्थान हासिल किया है। चौथे सेमेस्टर में निशा व शिवानी ने प्रथम व दूसरा स्थान हासिल किया है। एमएससी फिजिक्स के दूसरे सेमेस्टर में प्रतिभा शर्मा ने पहला तथा श्रुति चौहान ने दूसरा स्थान हासिल किया है। एमएससी केमिस्ट्री के दूसरे सेमेस्टर के परीक्षा परिणाम में सीमा देवी पहला व पूनम शर्मा ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया है। चौथे सेमेस्टर में इशा कुमारी व शिवानी ने क्रमश: प्रथम व द्वितीय स्थान प्राप्त किया है। एमएससी बाटनी के दूसरे सेमेस्टर में अंकिता ने पहला तथा अभिषेक ने दूसरा स्थान हासिल किया है। चौथे सेमेस्टर में साक्षी ने पहला तथा कनिका ने दूसरा स्थान प्राप्त किया है।

एमएससी जूलाजी के दूसरे सेमेस्टर में यशस्वी राजगौर ने पहला सुजाता धीमान ने दूसरा स्थान हासिल किया है। जीव विज्ञान के चौथे सेमेस्टर में कुमारी महक मनचंदा पहले, ईशु ठाकुर दूसरे स्थान पर रहे। सरदार पटेल विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक इंजीनियर सुनील वर्मा ने बताया कि परीक्षा परिणाम विश्वविद्यालय ने अपने वेबसाइट पर अपलोड कर दी है।

संबद्धता के लिए आवेदन नहीं किया तो नहीं होगी परीक्षा : अनुपमा

सरदार पटेल विश्वविद्यालय प्रति कुलपति प्रो. अनुपमा सिंह ने कहा कि मंडी, कुल्लू, चंबा, कांगड़ा व लाहुल-स्पीति जिला में स्थित सभी सरकारी डिग्री कालेजों, संस्कृत कालेज व निजी कालेजों को निर्देश दिए हैं कि अब जिलों के संस्थान सरदार पटेल विश्वविद्यालय से संबद्ध होने जा रहे है। कालेजों को संबद्धता के लिए आवेदन आवश्यक शुल्क के साथ 28 सितंबर तक जमा करना होगा। आवेदन नहीं करने पर विद्यार्थियों का एसपीयू मंडी से पंजीयन नहीं होगा। दिसंबर में आयोजित होने वाली सेमेस्टर परीक्षा को आयोजित नहीं किया जाएगा। इसके लिए संबंधित महाविद्यालय जिम्मेदार होगा।

Edited By: Virender Kumar