मनाली, जागरण संवाददाता। Snowfall In Himachal, मौसम के करवट बदलते ही बारालाचा दर्रे सहित रोहतांग व मनाली की ऊंची चोटियों पर हिमपात का क्रम शुरू हो गया है। चोटियों में बर्फबारी और घाटी के निचले क्षेत्रों में बारिश होने से ठंड बढ़ गई है। जून महीने में भी बर्फबारी का दौर जारी है। बारालाचा दर्रे में हल्की बर्फबारी के बीच वाहनों की आवाजाही सुचारू रूप से जारी है। कुंजुम पास की पहाड़ियों में बर्फबारी हो रही है। बर्फबारी के बावजूद ग्राम्फू काजा मार्ग भी वाहनों के लिए खुला है। शिंकुला दर्रे में भी बर्फ के फाहे गिर रहे हैं। लेकिन जांस्कर व मनाली के बीच वाहन सुचारू चल रहे हैं। प्रशासन ने पर्यटकों को बर्फबारी के बीच संभलकर वाहन चलाने की हिदायत दी है। बर्फबारी के कारण मार्ग पर वाहनों के टायर फ‍िसलने का खतरा रहता है।

रोहतांग दर्रे सहित मकरवे, शिकरवे, सेवन सिस्टर पीक, मनाली पीक, लद्दाखी पीक, पतालसू पीक, देउ टिब्बा, हनुमान टिब्बा, मांगण कोट, शेतीधार, हामटा पास, चंद्रखणी पास, शेगड़ी शकेरी पीक, शलीण धार, शिरघन तुंग पर बर्फ के फाहे गिर रहे हैं।

दूसरी ओर लाहुल घाटी के लेडी ऑफ केलंग, शिंकुला, बारालाचा, कुंजम जोत, छोटा व बड़ा शीघ्री ग्लेशियर सहित ऊंची चोटियों में भी बर्फबारी हो रही है। एसपी लाहुल स्पीति मानव वर्मा ने बताया कि बारालाचा दर्रे व सरचू में बर्फबारी हो रही है। बर्फबारी के बीच वाहनों की आवाजाही सुचारू है। दूसरी ओर पर्यटन नगरी मनाली में पर्यटकों की आमद बढ़ने लगी है। पर्यटक अटल टनल सहित रोहतांग दर्रे के दीदार कर रहे हैं। मनाली के सभी पर्यटन स्थल पर्यटकों से चहकने लगे हैं।

पर्यटकों ने आज भी रोहतांग दर्रे का रुख किया है। दर्रे पर बर्फ के फाहों के बीच पर्यटकों को खूब मस्‍ती करने का मौका मिला है। मई के बाद ज्‍यादा बर्फबारी का खतरा नहीं रहता है। अब बरसात भी उतर आई तो ऐसे में प्रशासन ने पर्यटकों को खराब मौसम में भी रोहतांग पास जाने की अनुमति दे दी है।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma