धर्मशाला, जेएनएन। देश के इतिहास में पहली बार पेट्रोल-डीजल रिकॉर्ड कीमत पर पहुंच गए हैं। ईंधनकी लूट पर जनता लोकसभा चुनाव में भाजपा को उचित जवाब देगी। ईंधन पर सबसे ज्यादा टैक्स वसूल कर मोदी सरकार 11 लाख करोड़ से अधिक का मुनाफा कमा चुकी है। जनता के जेबों से हो रही लूट से साफ लग रहा है कि मोदी सरकार लोकसभा चुनाव से पहले पेट्रोल और डीजल के दामों के मूल्य का शतकलगाएगी व दाम 100 रुपये प्रति लीटर पहुंच जाएगा।

रविवार को जिला कांगड़ा कांग्रेस की पत्रकार वार्ता में पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा ने कहा कि भाजपा द्वारा देश को संप्रदाय व जाति के नाम पर बांटने का प्रयास किया जा रहा है, जो कि सहन नहीं किया जाएगा। बढ़ती महंगाई ने सभी भारतीयों का बजट बिगाड़ दिया है। भाजपा ने केंद्र की सत्ता संभालने के बाद केंद्रीय एक्साइज डयूटी में 12 बार वृद्धि की है। 

मोदी सरकार विभिन्न देशों से सस्ते दामों पर खरीद व बेच रही थी, लेकिन देश की जनता को बहुत अधिक दामों पर पेट्रोल व डीजल बेचकर जनता से धोखा कर रही है। कांग्रेस ने जुलाई 2017 में पेट्रोल व डीजल को जीएसटी में दायरे में लाने की मांग की थी, लेकिन मोदी सरकार ने उसे भी अनसुना कर दिया। सोमवार को होने वाले बंद को लेकर जिला कांगड़ा के सभी नेताओं से बात हो गई है और उनकी दायित्व है कि वह हल्के में बाजारों को बंद करवाएं। इस मौके पर विधायक पवन काजल, पूर्व विधायक जगजीवन पाल, किशोरी लाल, संजय रतन, यादवेंद्र गोमा व कांग्रेस नेता केवल सिंह पठानिया उपस्थित रहे।

Posted By: Babita