पालमपुर, जेएनएन। शहीद कैप्टन विक्रम बतरा राजकीय महाविद्यालय पालमपुर के बहुचर्चित टिकटॉक प्रकरण में जांच रिपोर्ट को शिक्षा विभाग को भेज दिया गया है। जांच कमेटी की रिपोर्ट में पीटीए पर कार्यरत कर्मी को दोषी पाया गया है। इस आधार पर कर्मी पर अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए संतुति करते हुए रिपोर्ट को शिमला भेजा है। महाविद्यालय प्रशासन ने इसकी पुष्टि करते हुए मात्र यह स्पष्ट किया है कि जांच कमेटी की रिपोर्ट को उच्चाधिकारियों के पास संतुति के लिए भेजा है।

गत 16 अक्टूबर को महाविद्यालय में पीटीए पर कार्यरत एक कर्मी द्वारा बनाई गई टिकटॉक वीडियो वायरल हुई थी। जांच में खुलासा हुआ था कि कर्मी ने टिकटॉक पर वीडियो बनाते हुए उसे अपने सोशल मीडिया फेसबुक पर भी डाला था। ऐसे में कुछ वीडियो महाविद्यालय परिसर में ड्यूटी समय में बनाए गए थे। इतना ही नहीं इन वीडियो में वह महाविद्यालय की छात्राओं के साथ भी नाच रहा था। महाविद्यालय प्रशासन ने जांच के लिए चार सदस्यीय कमेटी का गठन किया था।  कमेटी ने पूछताछ करने के बाद अपनी रिपोर्ट को तैयार करते हुए महाविद्यालय प्रशासन को सौंपी थी।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस