रणेश राणा, बद्दी। कम समय में लोगों के पैसे दोगुने करने का झांसा देने वाली कोरबिट क्वाइन क्रिप्टो करंसी कंपनी के संचालक बद्दी से करीब 18 करोड़ रुपये लेकर फरार हो गए हैं। इस संबंध में स्थानीय लोगों ने एसपी बद्दी को शिकायत दी है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। अभी तक 20 लोगों ने पुलिस में शिकायत की है। हालांकि लोगों की संख्या इससे कहीं अधिक हो सकती है।

रमेश डोगरा पुत्र बीआर डोगरा निवासी वार्ड नौ बद्दी व सोनी कुमार पुत्र रघुनाथ ङ्क्षसह निवासी मेहता कालोनी वार्ड एक नालागढ़ ने एसपी बद्दी को दी शिकायत में बताया कि मोहम्मद हबीब निवासी कनार्टक व मोहम्मद अब्बास निवासी संगरूर (पंजाब) ने कोरबिट क्वाइन नाम की फर्जी क्रिप्टो करंसी बनाकर धोखाधड़ी की है। आरोप है कि दोनों ने लोगों के साथ करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी की है। हिमाचल, हरियाणा, पंजाब, मुंबई, हैदराबाद, कर्नाटक, गुजरात, दिल्ली सहित अन्य राज्यों के लोग भी ठगी का शिकार हुए हैं।

सूत्रों की मानें तो नकली क्रिपटो करंसी बनाने व अन्य प्रचलित करंसी का डिजीटल प्रारूप बनाने में दोनों आरोपित माहिर थे। आरोपित लोगों को चेन बनाकर सदस्य बनाने के लिए कहते थे। शुरू में पैसा लगाने वालों को उन्होंने ब्याज रूपी डबल पैसा दिया तो लोगों को यकीन हो गया और वे इनके झांसे में आ गए। बद्दी में कई लोगों ने 16 करोड़ व नालागढ़ के लोगों ने दो करोड़ का निवेश इनके पास किया था। दोनों आरोपित बद्दी में महंगे होटलों में बैठक कर चले जाते थे, लेकिन कभी भी इन्होंने बद्दी में कोई कार्यालय नहीं बनाया। वहीं एसपी बद्दी मोहित चावला ने बताया कि शिकायत आई है पुलिस हर पहलू को ध्यान में रखकर जांच कर रही है।

क्या है क्रिप्टो करंसी

क्रिप्टो करंसी क्रिप्टोग्राफी प्रोग्राम पर आधारित वर्चुअल करंसी व आनलाइन मुद्रा है। यह पीयर टू पीयर कैश सिस्टम है। क्रिप्टो करंसी को डिजिटल वालेट में ही रखा जा सकता है। दरअसल क्रिप्टो करंसी के इस्तेमाल के लिए बैंक या किसी अन्य वित्तीय संस्थान की जरूरत नहीं होती है।

Edited By: Vijay Bhushan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट