संवाद सहयोगी, पालमपुर : चौधरी सरवन कुमार हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर के मैदान में सेना भर्ती के चौथे दिन जिला मंडी के युवकों ने भाग लिया। सेना में भर्ती होने के लिए मंडी जिले की कोटली, चच्योट, करसोग और सरकाघाट तहसीलों के सैनिक सामान्य ड्यूटी (जीडी) उम्मीदवारों ने भाग लिया। चौथे दिन कुल पंजीकृत 2777 उम्मीदवारों में से 1867 उम्मीदवारों ने शारीरिक परीक्षा में भाग लिया।

1600 मीटर दौड़ में 281 उम्मीदवारों ने ग्राउंड पास किया। इस दिन भर्ती

मैदान में पास हुए सभी उम्मीदवारों को मेडिकल के लिए पांच मार्च को बुलाया गया है। मेडिकल में पास उम्मीदवारों को तुरंत लिखित परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड प्रदान कर दिए जाएंगे, जबकि मेडिकल में टेंपरेरी अनफिट उम्मीदवारों को री-मेडिकल के लिए सेना अस्पतालों में भेजा जाएगा। संबंधित सेना अस्पतालों से पास होकर आए सभी उम्मीदवारों को एडमिट कार्ड सेना भर्ती कार्यालय मंडी में सात अप्रैल को प्रदान किए जाएंगे। सेना भर्ती कार्यालय मंडी के भर्ती निर्देशक कर्नल एम राजाराजन ने बताया कि पांच मार्च को जिला मंडी की बालीचौकी, औट, निहरी, संधोल, भदरोटा, लडभड़ोल, बल्ह, पधर, बलद्वाड़ा, सदर मंडी, सुंदरनगर, जोगिद्रनगर, कोटली और सरकाघाट तहसील के 1453 उम्मीदवार और कुल्लू जिले की आनी तहसील के दो उम्मीदवार और आउटसाइडर के छह उम्मीदवारों को सैनिक सामान्य ड्यूटी (जीडी) और मंडी जिले की चच्योट तहसील के एक उम्मीदवार को सैनिकत कनीकी (नर्सिग) तथा मंडी जिले की सभी तहसीलों के लिए सैनिक लिपिक / स्टोर कीपर तकनीकी के 1378 उम्मीदवार और आउटसाइडर के एक उम्मीदवार भाग लेगा। उन्होंने दोहराया कि सेना भर्ती के लिए स्टॉफ की नियुक्ति अलग-अलग जगहों से होती है और भर्ती की पूरी प्रक्रिया पूर्णरूप से कंप्यूटरीकृत हैं। उन्होंने सेना में भर्ती करवाने के लिए पैसा लेने वाले दलालों से सावधान रहने का आह्वान किया। गलत कार्यवाही में संलिप्त नवयुवक की उम्मीदवारी रद कर दी जाएगी तथा उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की जाएगी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021