गोहर, सहयोगी। Police Stopped Funeral, मंडी जिले के गोहर उपमंडल की बासा पंचायत के कंढोल गांव में शनिवार रात को शिक्षिका की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। ससुराल पक्ष के लोग रविवार को अंतिम संस्कार के लिए शव श्मशानघाट ले गए। इतने में मृतका के रिश्तेदार की शिकायत मिलने पर पुलिस श्मशानघाट पहुुंची और शव को चिता पर से उठा कर कब्जे में लिया है। इससे माहौल काफी तनावपूर्ण हो गया। प्रारंभिक जांच में मृतका के गले पर रस्सी के निशान पाए गए हैं और मुंह से रक्त निकला हुआ था।

थुनाग में शिक्षिका तैनात नविता गुप्ता की शनिवार रात को मौत हो गई थी। मायके पक्ष को नविता की मौत का कारण हृदयाघात बताया गया था। नविता की बहन की बेटी ने गुरुग्राम से मासी की मौत को संदिग्ध बताकर सीएम हेल्पलाइन में शिकायत कर पोस्टमार्टम की मांग की थी। ऐसे में जब स्वजन उसका का अंतिम संस्कार गोहर श्मशानघाट में करने जा रहे थे तो गोहर पुलिस टीम वहां पहुंच गई। पुलिस ने अंतिम संस्कार रोककर शव चिता से उठाकर कब्जे में ले लिया। ससुराल पक्ष ने विरोध किया तो पुलिस ने बताया कि मायका पक्ष पोस्टमार्टम की मांग कर रहा है। बताया जा रहा है कि नविता गुप्ता तनाव में थी। उसका पति जलशक्ति विभाग में सहायक अभियंता के पद पर थुनाग में कार्यरत है।

गोहर पुलिस थाना के एएसआइ ओम प्रकाश ने बताया कि श्मशानघाट से महिला का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस अधीक्षक मंडी शालिनी अग्निहोत्री ने बताया कि मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चलेगा।

Edited By: Virender Kumar