धर्मशाला, जेएनएन। कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक सीमित के शताब्दी वर्ष की योजनाओं में उपभोक्ताओं को प्रोसेसिंग फीस में 50 फीसद की छूट मिलेगी। इन योजनाओं का शुभारंभ मुख्यमंत्री ने सोमवार को त्रिगर्त सभागार धर्मशाला में किया। इस दौरान बैंक ने जहां किसानों-बागवानों को समृद्ध बनाने वाली योजनाओं की शुरुआत की, वहीं उपभोक्ताओं को जोडऩे के लिए भी योजनाएं शुरू की हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री ने बैंक की ओर से किसानों और बागवानों के लिए स्वधन एक शताब्दी उपहार के नाम से किसान समृद्धि योजना, किसान समृद्धि प्लस योजना और केसीसीबी डेरी सुविधा योजना भी शुरू की।

केसीसीबी डेरी सुविधा योजना के तहत बेरोजगार युवा ऋण लेकर स्वरोजगार शुरू कर पाएंगे। इसके अलावा सरकारी कर्मचारियों के लिए ई-सैलरी, कार लोन, ई-सैलरी टू-व्हीकल लोन और ई-सैलरी पर्सनल लोन की सुविधा दी। मुख्यमंत्री ने स्वधन शिक्षा पर तीन प्रकार की योजनाएं भी लांच की। इन ऋण योजनाओं पर 50 प्रतिशत प्रोसेसिंग फीस में छूट के अलावा प्वाइंट 75 प्रतिशत की ब्याज दर में छूट प्रदान की जाएगी। इन ऋण योजनाओं में शिक्षा-1 के तहत चार लाख, शिक्षा-2 के तहत 4 से 7 लाख और शिक्षा-3 के तहत 7 लाख से अधिक का उपभोक्ता शिक्षा ऋण हासिल कर सकेंगे। इससे पहले मुख्यमंत्री ने बैंक कार्यालय में फोटो गैलरी के साथ 100वें एटीएम का भी शुभारंभ किया। शताब्दी समारोह कार्यक्रम में बैंक के चेयरमैन डॉ. राजीव भारद्वाज ने मुख्यमंत्री को योजनाओं के बारे अवगत करवाया।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस