धर्मशाला, जागरण संवाददाता। हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन यानि एचपीसीए अब 38 साल का हो चुका है या कहें तो अपने 38 साल पूरे कर लिए। एचपीसीए के स्थापना दिवस के मौके पर एचपीसीए पदाधिकारियों ने खिलाड़ियों के साथ मिलकर जश्न मनाया। इस दौरान एचपीसीए के पदाधिकारियों ने खिलाड़ियों को मिठाई बांटकर स्थापना दिवस की बधाई दी।

यहां बता दें कि 29 सितंबर 1984 को एचपीसीए की स्थापना हुई थी। बोर्ड आफ क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने वर्ष 1984 में पहली बार एचपीसीए को मान्यता प्रदान की थी। अपने 38 वर्षों के सफर में एचपीसीए ने कई उपलब्धियों को हासिल किया है। इस दौरान जहां धर्मशाला में विश्व के सबसे खूबसूरत क्रिकेट स्टेडियमों में से एक स्टेडियम का निर्माण किया गया। वहीं महिला व पुरूष क्रिकेट खिलाड़ियों ने टीम इंडिया में जगह बनाकर एचपीसीए का नाम रोशन किया।

एचपीसीए की बड़ी उपलब्धियों की बात करें तो इसका सफर वर्तमान में केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के एसोसिएशन के अध्यक्ष बनने के बाद शुरू हुआ। अनुराग ठाकुर के अध्यक्ष बनने के बाद ही क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण कार्य शुरू हुआ जो आज दुनिया के खूबसूरत स्टेडियमों में से एक है। इसके बाद यहां पहली बार पाकिस्तान की टीम इंडिया ए टीम के साथ खेलने के लिए पंहुची थी। उसके बाद कई घरेलू मैचों से लेकर अब तक आईपीएल सीजन व कई अंर्तराष्ट्रीय मैच खेले जा चुके हैं।

पांच वन-डे, नौ टी-20 सहित एक टेस्ट मैच की मेजबानी कर चुका है धर्मशाला क्रिकेट स्टेडियम

धर्मशाला क्रिकेट स्टेडियम में अभी तक पांच वन-डे, नौ टी-20 सहित एक टेस्ट मैच का आयोजन हो चुका है। इसके अलावा कई आईपीएल मैच भी यहां खेले जा चुके हैं। धौलाधार की तलहटी में बने इस क्रिकेट स्टेडियम को इंगलैंड व आस्ट्रेलिया जैसी तेज पिचों के लिए जाना जाता है। वहीं खिलाड़ियों के ठहरने के लिए एचपीसीए ने दाड़नू में फाई स्टार होटल का भी निर्माण किया है।

Edited By: Richa Rana

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट