शिमला, जागरण संवाददाता। Jairam Thakur and Mukesh Dispute, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री के बीच हेलीकाप्टर के उपयोग पर छिड़ी जुबानी जंग में वन मंत्री राकेश पठानिया के बाद कांग्रेस महासचिव व विधायक विक्रमादित्य सिंह भी कूद गए हैं। शिमला में पत्रकारों से बातचीत में विक्रमादित्य सिंह ने राकेश पठानिया को अपनी खलटी (खाल में) रहने की सलाह दी है। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि वन मंत्री कांग्रेस को धमकाने की कोशिश न करें। कांग्रेस का पूरा विधायक दल मुकेश अग्निहोत्री के साथ खड़ा है। अग्निपथ योजना और पुलिस पेपर लीक मामले में हो रहे विरोध से घबराकर इस तरह की बयानबाजी की जा रही है।

नूरपुर में रणवीर सिंह निक्का की रैली के बाद पठानिया बुरी तरह बौखला गए हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को सलाह दी कि प्रेस कांफ्रेंस करने के लिए किसी ऐसे मंत्री को उतारना चाहिए था, जिसकी छवि साफ होती। भाजपा सरकार ने साढ़े चार साल में कोई विकास कार्य नहीं किया। अब विधानसभा चुनाव नजदीक आते देख भाजपा नेता लोगों का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रहे हैं।

विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि सरकार अपने पांच ऐसे कार्य जनता के सामने रखे, जिसे भाजपा सरकार में शुरू कर उसका उद्घाटन किया हो। प्रदेशभर में जो विकास कार्य हो रहे हैं, वे सभी कांग्रेस सरकार ने शुरू करवाए थे। प्रदेश में कांग्रेस के प्रचार और बढ़ते जनाधार से घबराकर मुख्यमंत्री और उनके मंत्री बयानबाजी कर रहे हैं।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma