चंबा, जागरण टीम। Heavy Rain In Himachal, हिमाचल प्रदेश में लगातार दूसरे दिन भी भारी बारिश का दौर जारी है। जिला चंबा में वीरवार तड़के हुई भारी बारिश के कारण हर तरफ तबाही का आलम देखने को मिला। आलम यह रहा कि लोगों को जान बचाने के लिए सुरक्षित स्थानों की ओर भागना पड़ा। जिला मुख्यालय के साथ लगती ग्राम पंचायत सरोल तथा हरिपुर में बारिश के कारण भारी मात्रा में पानी व मलबा लोगों के घरों व खेतों में घुस गया, जिस कारण लोगों को भारी नुकसान हुआ है। सरोल क्षेत्र के सरोल, घोल्टी, हरिपुर तथा भद्रम में करीब 15 से 20 घरों में पानी व मलबा घुस गया।

इसके अलावा खेतों में भी पानी व मलबा घुसने से मक्की की फसल तबाह हो गई है। जानकारी के अनुसार वीरवार तड़के करीब तीन बजे उक्त क्षेत्र में अचानक भारी बारिश का दौर शुरू हो गया। इससे पहले की लोग कुछ समझ पाते, पहाड़ी की तरफ से भारी मात्रा में पानी व मलबा आना शुरू हो गया। देखते ही देखते पानी सहित मलबा लोगों के घरों व खेतों में घुस गया। लोग बुरी तरह से सहम गए। उक्त हादसे में अभी तक किसी तरह का जानी नुकसान होने की सूचना नहीं है।

एनएच रहा बाधित, चंबा-सलूणी मार्ग पर डंगा गिरा

वीरवार तड़के हुई भारी बारिश के कारण चंबा-पठानकोट एनएच पर चनेड़, उदयपुर व तड़ोली में भारी मात्रा में मलबा सड़क पर आ गया, जिस कारण उक्त मार्ग पर करीब आधा घंटा तक वाहनों की आवाजाही बाधित रही। वहीं, चंबा-तीसा मार्ग पर भद्रम नाले का जलस्तर बढ़ने के चलते मार्ग पर भारी मात्रा में पानी व मलबा आने के कारण यहां पर भी आवाजाही प्रभावित हुई है।

इसके अलावा चंबा-सुंडला-सलूणी मार्ग पर कैला मोड़ में डंगा गिर गया है। जिस समय डंगा गिरा, उस वक्त वहां से एक कार गुजर रही थी, जिसका एक हिस्सा लटक गया। गनीमत यह रही कि कार खाई में नहीं गिरी, नहीं तो बड़ी अनहोनी हो सकती थी। इसके अलावा जिला के विभिन्न स्थानों पर नुकसान होने की सूचना है।

उपायुक्‍त के सभी विभागों को निर्देश

उपायुक्‍त चंबा डीसी राणा ने कहा जिला चंबा में भारी बारिश के कारण घरों व खेतों में पानी घुसने की सूचना है। इसके साथ ही सड़कों को भी नुकसान हुआ है। सभी विभागों को निर्देश दिए गए हैं कि सुरक्षा संबंधी कार्य कर नुकसान की रिपोर्ट जल्द तैयार की जाए। प्रशासन की ओर से प्रभावितों की हरसंभव सहायता की जाएगी।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma