चंबा/साहो, जागरण टीम। Himachal Pradesh Latest News Chamba, हिमाचल प्रदेश के जिला चंबा में एक दर्दनाक हादसा हुआ है। चंबा के साहाे क्षेत्र के तहत आने वाली प्रोथा पंचायत के बाहरेई गांव में एक तीन साल की मासूम की मौत हो गई। तीन वर्षीय बच्ची के गले में लोहे का नट फंसने से उसकी दर्दनाक मौत हो गई है। तीन वर्षीय गुन्नू पुत्री अश्विनी कुमार गांव बाहरेई साहो चंबा की एक छोटी सी लापरवाही के कारण जान चली गई। यह दर्दनाक वाक्य बुधवार शाम के वक्त पेश आया, जब तीन वर्षीय गुन्नू कमरे में खेल रही थी। इस दौरान उसने लोहे का नट मुंह में डाल लिया, अचानक लोहे का नट उसके गले में फंस गया। जब मां ने उसे देखा तो उस दौरान बच्ची का दम घुट रहा था। स्वजन बच्ची को तुरंत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र साहो ले गए। लेकिन इससे पहले ही बच्ची की मौत हो चुकी थी।

अचानक पेश आए इस दर्दनाक वाक्य से माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है। बताया जा रहा उनके घर के साथ रिश्तेदारी में शादी समारोह चल रहा था। इस बीच घटी इस हृदय विदारक घटना ने सब मातम में बदल गया है। घटना को लेकर पुलिस में किसी तरह का मामला दर्ज नहीं हुआ है।

तीन साल की गुन्‍नू माता-पिता की इकलौती बेटी थी। अश्‍वनी कुमार मेहनत मजदूरी कर परिवार का पालन पोषण करते हैं। हंसते खेलते परिवार की रौनक नन्‍हीं परी की अचानक मौत से स्‍वजन सदमे में हैं।

बरतनी चाहिए सावधानी

बच्‍चों को लेकर विशेष सावधानी बरतने की जरूरत होती है। जरा सी लापरवाही नुकसान हो सकती है। चंबा में अश्‍वनी कुमार के परिवार के साथ भी ऐसा ही हुआ। बच्‍चों से डालर, कंचे व लोहे की इस तरह चीजें दूर रखनी चाहिएं। इसके अलावा विद्युत उपकरण भी बच्‍चों की पहुंच से दूर रखने चाहिएं। जहां तक हो सके बच्‍चों को अपनी निगरानी में ही रखना चाहिए।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma