शिमला, जेएनएन। हिमाचल प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र आज से शुरू हो रहा है। मानसून सत्र को सुचारू रूप से चलाने के लिए सोमवार को प्रदेश के शिक्षा, कानून एवं संसदीय कार्यमंत्री सुरेश भारद्वाज ने विधानसभा में विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री से मुलाकात की। इस दौरान भारद्वाज ने सत्र को सुचारू रूप से चलाने के लिए विपक्ष का सहयोग मांगा।

क्‍यास लगाए जा रहे हैं आक्रामक तेवरों के साथ विपक्षी कांग्रेस विधानसभा में हिमाचल को बेचने के आरोप लगाकर जयराम सरकार को घेरेगी। मानसून सत्र तब आगे बढ़ेगा, जब सत्तारूढ़ भाजपा से धारा 118 पर संतोषजनक जवाब आएगा। हिमाचल प्रदेश विधानसभा के सोमवार से शुरू हो रहे मानसून सत्र के हंगामापूर्ण रहने की संभावना है। सत्र के दौरान धारा 118 का मुद्दा प्रमुखता से उठेगा। इसके अलावा चहेतों को सरकारी भूमि लीज पर देने, निदेश के लिए किए एमओयू की स्थिति, इलेक्ट्रिकल बसों की खरीद, सड़क दुर्घटना, टीसीपी, तबादला नीति व अवैध खनन जैसे ज्वलंत मुद्दों पर बहस होगी।

मानसून सत्र में पूछे जाएंगे 859 प्रश्‍न

मानसून सत्र में इस बार सबसे अधिक 859 प्रश्न पूछे जाएंगे। इसमें 637 तारांकित और 222 अतारांकित प्रश्न शामिल हैं। सत्र के दौरान नियम-130 के तहत सबसे अधिक 14 विषय चर्चा के लिए आए हैं। स्कूलों सहित अन्य विभागों में खाली पद, पानी, नशा और सड़क दुर्घटनाओं पर प्रश्न पूछकर सरकार से जवाब मांगा जाएगा। 19 से 31 अगस्त तक चलने वाले मानसून सत्र में कुल 11 बैठकें होगी। इसमें दो दिन गैर सरकारी सदस्य कार्य दिवस यानी प्राइवेट मेंबर डे के लिए रखे हैं।

Posted By: Rajesh Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप