धर्मशाला, जेएनएन। हिमाचल प्रदेश विधानसभा का शीतकालीन सत्र सोमवार से शुरू हो गया। पहले दिन नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्‍िनहोत्री विधानसभा परिसर के मुख्‍य गेट पर धरने पर बैठ गए। सीएम जयराम ठाकुर जब विधानसभा के मुख्‍य गेट पर पहुंचे तो उन्‍होंने काफ‍िला रोककर उनसे बात की व उन्‍हें भवन के अंदर लाए। इस दौरान धर्मशाला के विधायक विशाल नेहरिया भी सीएम के साथ मौजूद रहे।

बताया जा रहा है मुकेश अग्‍िनहोत्री मुख्‍य गेट से गाड़ी न जाने देने पर नाराज हो गए। उन्‍होंने सुरक्षा कर्मियों के व्‍यवहार से नाराज होकर धरना शुरू कर दिया। इससे पहले संसदीय कार्यमंत्री सुरेश भारद्वाज की गाड़ी को भी सुरक्षा कर्मियों ने मुख्‍य गेट से आने से रोक दिया। सुरेश भारद्वाज दूसरे गेट से आ गए। लेकिन नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्‍िनहोत्री धरने पर बैठ गए। इस विवाद के बाद विधानसभा भवन में अध्‍यक्ष राजीव बिंदल की मौजूदगी में इस विषय पर बैठक भी हुई।

मुकेश अग्‍िनहोत्री ने कहा चुने हुए जनप्रतिनिधि होने के नाते हम मुख्‍य गेट से ही आएंगे। इस संबंध में विधानसभा अध्‍यक्ष से बैठक हुई है व अब सभी विधायक विधानसभा के मुख्‍य गेट से ही आएंगे। मुकेश ने कहा सीएम ने बीते दिनों बयान दिया था कि कांग्रेस है कहां। मुख्‍यमंत्री को सदन में बताया जाएगा कि कांग्रेस कहां है।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस