धर्मशाला, राजेंद्र डोगरा। Festive Season Sweets, त्योहारी सीजन शुरू होने के साथ ही खाद्य सुरक्षा ने भी मिलावटी मिठाई बेचने वालों पर शिकंजा कसने के लिए बाजारों में दस्तक देनी शुरू कर दी है। अभी जिला कांगड़ा में खाद्य सुरक्षा की ओर से सहायक आयुक्त के नेतृत्व में टीम 26 सैंपल मिठाइयों के भर चुकी है, जिनकी रिपोर्ट आना शेष है। इसके अलावा अभी और कुछ सैंपल मिठाईयों के भरे जाएंगे। त्योहारी सीजन में मिलावटी मिठाई बेचने वाले भी सक्रिय हो जाते हैं इसीलिए इन पर अंकुश लगाने के लिए खाद्य सुरक्षा की ओर से हर वर्ष दीपावली से 15 दिन पहले ही बाजारों में टीमें दस्तक देना शुरू कर देती हैं और मिलावटी मिठाई को लेकर जहां सैंपल भरे जाते हैं। वहीं हलवाईयों व मिठाई विक्रेताओं को यह हिदायत भी दी जा रही है कि वह मिठाई काे ढककर रखें। यदि निरीक्षण के दौरान मिठाई में मक्खी या मच्छर पड़ा पाया जाता है तो टीम बकायदा मिठाई को मौके पर नष्ट करवा देगी।

इन शहरों के बाजारों में रहती ज्यादा नजर

दीपावली से पूर्व त्योहारी सीजन शुरू होने के साथ ही खाद्य सुरक्षा की ओर से धर्मशाला, नगरोटा बगवां, कांगड़ा, पालमपुर व शाहपुर के बाजारों पर ज्यादा नजर रखी जाती है और समय-समय पर निरीक्षण भी किया जाता है तथा मिठाइयों के सैंपल भी भरे जाते हैं। हालांकि खाद्य सुरक्षा विभाग की ओर से जिला के तमाम शहरों में नजर रखने के साथ निरीक्षण किया जाता है, ताकि मिलावटी मिठाई की बिक्री पर लगाम लगाई जा सके और मिठाई विक्रेताओं को भी समय रहते हिदायत जारी की जा सके।

क्‍या कहते हैं अधिकारी

खाद्य सुरक्षा सहायक आयुक्त सविता ठाकुर का कहना है त्योहारी सीजन को लेकर अक्टूबर की शुरुआत में ही बाजारों में टीम ने दस्तक देनी शुरू कर दी है। कोई मिलावटी मिठाई न बेच रहा हो, इसके लिए बकायदा सैंपल भरे जा रहे हैं। अभी तक 26 सैंपल भरे जा चुके हैं तथा जल्द ही और सैंपल लिए जाएंगे। भरे गए 26 सैंपलों की अभी तक रिपोर्ट नहीं आई है। हालांकि टीम बकायदा बाजारों में दस्तक दे रही है और मिलावटी मिठाई के साथ-साथ यदि किसी ने ज्यादा रंग इस्तेमाल किया या अन्य कोई लापरवाही बरती गई है तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाती है।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma