मनाली, जेएनएन। रोहतांग दर्रे सहित लाहुल व मनाली की ऊंची चोटियों में बुधवार को भी हल्का हिमपात हुआ। बुधवार को रोहतांग दर्रे में दिनभर वाहनों की आवाजाही सुचारू रही। लेह मार्ग बहाल होने के बाद सेना की रसद मनाली होते हुए ही लेह पहुंचाई जा रही है। लेह सहित किलाड़ पांगी व लाहुल के लिए भी खाद्य सामग्री लगातार दर्रे से होकर ही भेजी जा रही है।

बुधवार को मनाली की ऊंची चोटियों सहित मकरवे, शिकरवे, सेवन सिस्टर पीक, मनाली पीक, लद्दाखी पीक, हनुमान टिब्बा, देउ टिब्बा, मांगन कोट सहित लाहुल की ओर कुंजम, शिंकुला, बारालाचा, लेडी ऑफ केलंग, छोटा व बड़ा शीघ्री ग्लेशियर सहित समस्त ऊंची चोटियों में बर्फ की चादर ओढ़ ली है।

आज बुधवार को रोहतांग दर्रा आम वाहनों के लिए भी खुला रहा। वहीं दूसरी ओर निचले इलाकों में आज भी अंधड़ ने बागवानों को परेशान किया। एसडीएम मनाली रमन घरसंगी ने कहा कि आज रोहतांग दर्रे में वाहनों की आवाजाही सुचारू रही।

बीआरओ दारचा शिंकुला मार्ग की बहाली में जुटा हुआ है। बारालाचा सहित शिंकुला दर्रे में हर रोज बर्फ़बारी हो रही है जिससे बीआरओ का कार्य प्रभावित हुआ है। बीआरओ कुछ ही दिनों में लेह लद्धाख की जांस्कर घाटी को लाहुल से जोड़ देगा। बर्फ़बारी से मनाली लेह मार्ग पर चल रहे सड़क मरम्मत का कार्य भी प्रभावित हुआ है। -कर्नल उमा शंकर  कमांडर बीआरओ

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस