ज्‍वालामुखी, जेएनएन। मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर के ज्‍वालामुखी में पहुंचने से पहले विवाद शुरू हो गया। दरअसल, भाजपा के वरिष्‍ठ विधायक रमेश धवाला को एसएसबी सेंटर सपड़ी के परिसर में अंदर जाने से रोक दिया गया। गेट पर तैनात सुरक्षा गार्डों ने उन्‍हें अंदर जाने की अनुमति नहीं दी, इस बीच काफी देर तक दोनों पक्षों के बीच गहमागहमी होती रही। प्रशासनिक अधिकारियों के हस्‍तक्षेप के बाद विधायक को अंदर आने दिया गया।

सीएम जयराम ठाकुर का हेलीकॉप्‍टर एसएसबी सेंटर सपड़ी के मैदान में उतरना था। इस कारण प्रशासनिक अधिकारी तो अंदर चले गए, लेकिन जब विधायक की बारी आई तो सुरक्षा जवानों ने उन्‍हें अनुमति न होने की बात कही। इस पर विधायक आग बबूला हो गए। एसएसबी डीआइजी विक्रम सिंह ठाकुर का कहना है कि ऐसा नहीं है। स्‍थानीय विधायक परिसर के अंदर ही हैं।

बताया जा रहा है विधायक रमेश धवाला सबसे पहले एसएसबी सेंटर सपड़ी पहुंचे थे, उनके बाद नूरपुर के विधायक राकेश पठानिया व देहरा के विधायक होशियार सिंह आए। सुरक्षा जवानों ने इन्‍हें भी गेट पर ही रोक दिया था। इन्‍हें भी पूछताछ के बाद ही अंदर जाने की अनुमति मिली। लेकिन बताया जा रहा है कि विधायक रमेश धवाला के साथ सुरक्षा जवानों की बहस हो गई थी। दोनों पक्षों के बीच काफी देर तक गहमागहमी होती रही।

काफी देर बाद विधायक को अंदर जाने की अनुमति मिली। परिसर में पहुंचते ही विधायक ने एसएसबी के आला अधिकारियों से इस व्‍यवहार के खिलाफ रोष जताया। काफी देर तक रमेश धवाला अधिकारियों के साथ उलझते रहे। इस बीच नूरपुर के विधायक राकेश पठानिया भी परिसर में पहुंच गए व उन्‍होंने धवाला को शांत करवाया।

बताया जा रहा है विधायक इस व्‍यवहार से काफी नाराज हैं व वह सीएम के समक्ष भी इस मामले को उठा सकते हैं। सीएम जयराम ठाकुर का मंगलवार को कथोग में कार्यक्रम है। इस दौरान वह जनसभा को भी संबोधित करेंगे। सीएम करीब 11 बजे सपड़ी हेलीपैड पर पहुंचे, जहां विधायक समेत अन्‍य नेताओं ने उनका स्‍वागत किया।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस