धर्मशाला/शिमला, जागरण टीम। Dharamshala Mcleodganj Ropeway, धर्मशाला-मैक्लोडगंज रोपवे में सफर की तैयारी कर लें। मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर 19 जनवरी को इसका शुभारंभ करने जा रहे हैं। यात्रियों को एक से पांच लाख रुपये तक का बीमा कवच मिलेगा। रोपवे का परिचालन सुबह पांच से रात्रि 11 बजे तक यानी कुल 18 घंटे किया जाएगा। रोपवे के केबिन में एक समय में आठ से अधिक यात्री सफर नहीं कर सकेंगे। तीन साल के बच्चों पर अधिकतम यात्रियों की शर्त लागू नहीं होगी। यात्रियों की अधिकतम संख्या के साथ-साथ प्रत्येक केबिन में अधिकतम 640 किलो वजन तक ही धर्मशाला से मेक्लोडगंज तक ले जाने की अनुमति है। शर्तों की अवहेलना पर कार्रवाई होगी।

करीब 150 करोड़ की लागत से तैयार हुए रोपवे का ट्रायल चल रहा है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर इसका 19 जनवरी को उद्घाटन करने वाले हैं। रोपवे के निर्माण से न सिर्फ ट्रैफिक जाम से मुक्ति मिलेगी, बल्कि पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। धर्मशाला से मैक्‍लोडगंज के सफर के दौरान अकसर पर्यटकों को ट्रैफ‍िक जाम में फंसना पड़ता है।

रोपवे से उद्घाटन से पहले सरकार ने इसके नियम तय कर दिए हैं। नियमानुसार रोपवे में सफर करने वाले तीन साल तक के बच्चे को एक लाख तथा इससे अधिक उम्र के लोगों को पांच लाख तक का बीमा कवर मिलेगा। रोपवे का संचालन कर रही कंपनी को इसमें सफर करने वाले यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर मैकेनिकल व इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की तैनाती के साथ साथ अन्य आवश्यक कदम भी उठाने होंगे।

हिमानी-चामुंडा व भुंतर में नहीं रुचि

कांगड़ा जिला में ही आदि हिमानी-चामुंडा व कुल्लू जिला में भुतंर से बिजली महादेव रोपवे निर्माण से जुड़ी कंपनियों ने अभी तक निर्माण कार्य शुरू नहीं किया है। माना जा रहा है कि दोनों रोपवे निर्माण में कंपनियों की दिलचस्पी नहीं है। सरकार की ओर से रोपवे निर्माण के लिए गठित कंपनी की ओर से दोनों स्थानों के प्रस्तावित रोपवे से जुड़ी कंपनियों को नोटिस जारी किए गए हैं।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma