ज्वालामुखी (कांगड़ा), जेएनएन। Cyber Fraud In Himachal. पुलिस महानिदेशक एसआर मरडी ने कहा कि साइबर क्राइम तेजी से फैल रहा है। लोगों से ठगी करने के लिए शातिर कई तरह के तरीके अपना रहे हैं। साइबर ठगी के मामले रोकने के लिए पुलिस कर्मियों को विशेष प्रशिक्षण दिया जा रहा है। पुलिस कर्मियों को विशेष उपकरण भी दिए जा रहे हैं ताकि जालसाजों के हर तरीके को उजागर कर उन्हें पकड़ा जा सके।

एसआर मरडी ने कहा कि ठगों से बचने के लिए लोगों को जागरूक भी किया जा रहा है। लोगों को चाहिए कि वे साइबर ठगों से बचने के लिए सावधानी बरतें। सोशल मीडिया पर भी लोगों को जानकारी दी जा रही है कि वे साइबर क्राइम से बचने के लिए क्या करें और क्या न करें। उन्होंने कहा कि बड़े साइबर क्राइम के जो मामले सामने आते हैं, उनके संबंध में मीडिया में जानकारी दी जाती है। ऐसा किए जाने से जागरूकता बनी रहती है। प्रदेश में नशा तस्करी के मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे कई मामले सामने भी आ रहे हैं। पुलिस ऐसे मामलों को रोकने में सक्षम है। इसके लिए पंचायत स्तर पर भी नशा निवारण समिति बनाने के निर्देश दिए गए हैं।

उन्होंने कहा कि स्कूलों व कॉलेजों में विद्यार्थियों को जागरूक किया जा रहा है। अब कोई भी व्यक्ति बिना किसी डर के पुलिस को नशा तस्कर के ठिकाने या किसी अन्य अपराध के संबंध में सूचना दे सकता है। ऐसे मामलों में सूचना देने वाले का नाम गुप्त रखा जाता है। नशे के बढ़ते हुए कारोबार को रोकने के लिए लोगों को आगे आना होगा। ऐसा होने पर ही नशीले पदार्थों का अवैध रूप से कारोबार करने वालों को पकड़ा जा सकेगा।

डीजीपी ने ज्वालामुखी मंदिर में शीश नवाया

पुलिस महानिदेशक एसआर मरडी ने शुक्रवार को ज्वालामुखी मंदिर में शीश नवाया। उन्होंने मंदिर में पवित्र ज्योतियों के दर्शन किए। मंदिर अधिकारी बिशन दास शर्मा ने उन्हें माता की चुनरी भेंट की। 

हिमाचल की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस