संवाद सहयोगी, बैजनाथ : टैक्सी चालक अश्वनी चौधरी की हत्या के मामले में गुस्साए परिजनों और ग्रामीणों ने मंगलवार को पठानकोट-मंडी नेशनल हाईवे पर पपरोला बाजार में प्रदर्शन किया। इस कारण करीब दो घंटे मार्ग बंद रहा और वाहन चालकों व अन्य लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा।

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार अश्वनी के परिजनों और ग्रामीणों ने सुबह दस बजे नेशनल हाइवे पर प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस दौरान नेशनल हाइवे पर दोनों तरफ वाहनों की कतारें लग गईं। इस बाबत सूचना मिलते ही डीएसपी पालमपुर अमित शर्मा ने मौके पर पहुंचकर परिजनों और ग्रामीणों को समझाया और उनसे प्रदर्शन समाप्त करने का आग्रह किया। परिजनों और ग्रामीणों में इस बात पर रोष था कि अश्वनी की हत्या हुए इतने दिन बीत गए हैं पर पुलिस अभी तक यह ज्ञात नहीं कर पाई है कि हत्यारे कौन थे और गाड़ी को कहां ले जाया गया है। यही कारण था कि परिजनों और क्षेत्रवासियों में पुलिस प्रशासन की कार्यप्रणाली पर रोष गहराता जा रहा था। प्रदर्शन की सूचना सोमवार को एसडीएम बैजनाथ को दे दी गई थी। प्रदर्शन के दौरान भारी संख्या में पुलिस कर्मचारी पपरोला में तैनात थे मगर प्रदर्शनकारियों के आगे वे मूकदर्शक ही रहे। ऐसे में पालमपुर से डीएसपी अमित शर्मा ने आकर मोर्चा संभाला और जैसे-तैसे प्रदर्शनकारियों को शांत करवाया। परिजनों और ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन को 15 दिन का अल्टीमेटम हत्या आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए दिया है। इस दौरान अगर कार्रवाई नहीं हुई तो बैजनाथ के चौबीन चौक पर रास्ता बंद कर प्रदर्शन करेंगे।

....................

पुलिस जांच कर रही है। केस को सुलझाने में कुछ समय लग सकता है। यह ब्लाइंड मर्डर था। पुलिस जल्द हत्या की गुत्थी को सुलझा लेगी।

-अमित शर्मा, पुलिस उपाधीक्षक पालमपुर

..................

यह है मामला

22 सितंबर को उपमंडल बैजनाथ के नौरी निवासी अश्वनी चौधरी की टैक्सी को कुछ लोगों ने किराये पर लिया और उसे अपने साथ ले गए। इसके बाद न तो उन लोगों का पता चला और न ही गाड़ी मिली। अश्वनी चौधरी का शव पुलिस ने रानीताल के निकट रेलवे पुल के पास बरामद किया था। अश्वनी को बेरहमी से मारा गया था। उसके शरीर पर तीन गोलियां लगी थीं। एक सप्ताह पूर्व ही अश्वनी ने टैक्सी खरीदी थी। घर पर वह अकेला ही कमाने वाला था। यही कारण है कि परिजन बेटे के हत्यारों को पकड़ने के लिए पुलिस प्रशासन से गुहार लगाते हुए मामला हल न होते देखकर प्रदर्शन के लिए मजबूर हुए हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप