पालमपुर, जेएनएन। एक ही व्यक्ति के दो स्थानों पर अलग-अलग मृत्यु प्रमाणपत्र बनवाने पर अधिवक्ता के खिलाफ पालमपुर पुलिस थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज हुआ है। यह कार्रवाई मुख्यमंत्री सेवा संकल्प के तहत मिले निर्देश के बाद हुई है। डीएसपी अमित शर्मा ने बताया कि मामले की जांच के लिए निर्देश दे दिए हैं। दूसरी ओरमामले से जुड़े अधिवक्ता ने इस मामले को झूठा करार दिया है। उन्होंने इसे पारिवारिक रंजिश बताते हुए कहा कि शिकायतकर्ता इसी तरह की झूठी शिकायतें लंबे समय से कर रही हैं।

मुख्यमंत्री सेवा संकल्प के तहत 16 अक्टूबर को पालमपुर थाने में धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया है। मीनाक्षी सूद निवासी लोहना डाकघर बंदला टी एस्टेट तहसील पालमपुर ने शिकायत दर्ज करवाई है कि वकील विकास सूद ने ओम प्रकाश के दो मृत्यु प्रमाणपत्र ग्राम पंचायत लोहना व ग्राम पंचायत हरोली से हासिल किए हैं।

मीनाक्षी सूद का कहना है कि उसने सूचना के अधिकार के तहत ये प्रमाणपत्र हासिल किए हैं। इसके बाद मुख्यमंत्री सेवा संकल्प को उन्होंने इसकी जानकारी भेजी थी। इस जानकारी के बाद पालमपुर पुलिस थाना में वकील के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप