पालमपुर, जागरण संवाददाता। कांगड़ा हवाई अड्डे के विस्तार की मुहिम के हो रहे विरोध को लेकर विधायक पवन काजल का खुलकर सामने आना कांग्रेस के ही नेताओं को नागवार गुजर रहा है। कांग्रेस के युवा नेता गोकुल बुटेल ने जिस प्रकार से सोशल मीडिया पर अपनी राय रखी है वह चर्चा का विषय बन गई है। बकौल, गोकुल बुटेल कांगड़ा के कांग्रेस विधायक पवन काजल के इस बयान को सुनकर खेद हुआ। बेशक, यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि जो लोग हवाई अड्डे के विस्तार से प्रभावित हो रहे हैं, उन्हें विधिवत मुआवजा दिया जाए और उन्हें साथ रखा जाए।

मैं यह भी समझता हूं कि पौंग बांध जलाशय के दौरान विस्थापित हुए बहुत से लोगों को अभी भी न्याय का इंतजार है। राज्य के नेताओं को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि गगल के लोगों के साथ ऐसा न हो। लेकिन एक जन प्रतिनिधि के रूप में, पवन काजल को जनता के साथ-साथ राज्य का भी बड़ा भला देखना चाहिए। गगल में एक बड़ी हवाई पट्टी न केवल पर्यटन को बढ़ावा देगी, बल्कि अर्थव्यवस्था को भी मदद करेगी और क्षेत्र में रोजगार पैदा करेगी। कई लोग जो चिकित्सा प्रायोजनों के लिए दिल्ली या अन्य शहरों की यात्रा करते हैं, वे भी लाभान्वित होंगे।

गगल हवाई अड्डे के विस्तार को लेकर प्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेता भी किसी प्रकार की प्रतिक्रिया देने से बच रहे हैं। जबकि पवन काजल ने इस पर सीधे भाजपा नेता शांता कुमार पर हमला बोलते हुए इसे पालमपुर में ही बनाने की बात कही है। ऐसे में इस बयान के बाद पालमपुर से कांग्रेस नेता व पूर्व मुख्यमंत्री के आइटी सलाहकार गोकुल बुटेल का जवाब बेशक सोशल मीडिया पर है लेकिन इसने राजनीतिक हलकों में व्यापक माहौल गर्मा दिया है।

पायलट हूं और बड़े हवाई अड्डे का महत्‍व समझता हूं

मैं एक पायलट हूं और बड़े हवाई अड्डे का महत्व समझता हूं। सोशल मीडिया में जो भी बयान मैंने रखा है वह व्यक्तिगत है। जब कांगड़ा में बड़ा हवाई जहाज उतरेगा तो उसका सीधा लाभ जनता को मिलेगा क्योंकि उससे किराये में भारी कमी होगी। अमूमन जो किराया आठ हजार तक रहता है वह कम होकर अढ़ाई हजार तक हो जाएगा। -गोकुल बुटेल, युवा कांग्रेस नेता।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस