शिमला, राज्य ब्यूरो। Himachal Shikhar Samman, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि दिल्ली के सात सितारा होटल में सात लाख रुपये मूल्य का चंबा रुमाल रखा गया था। यह रुमाल बिक्री के लिए इस होटल के प्रवेश द्वार पर शोभायमान था। उन्होंने कहा हिमाचली कला देश विदेश में ख्याति प्राप्त है, इसका श्रेय प्रदेश के हर कलाकार को जाता है। तीन दिन पहले हिमाचल की दो विभूतियों को पदमश्री प्रदान किया गया है। इन लोगों ने हिमाचली कला को न केवल देश बल्कि विदेशों में पहचान दिलाई है।

उन्होंने कहा कि साहित्यकारों कलाकारों को ये जिम्मेदारी लगातार निभाते रहना है, क्योंकि समाज को सही दिशा देने का दायित्व कलाकारों के ऊपर निर्भर करता है। गेयटी थियेटर शिमला में आयोजित शिखर सम्मान, कला सम्मान, साहित्य पुरस्कार सम्मान से सम्मानित करते हुए उन्होंने कलाकारों के योगदान को सांस्कृतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण बताया। हिमाचल कला संस्कृति भाषा अकादमी द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने चंडीगढ़ रवाना होने से पूर्व पांच कलाकारों को सम्मानित किया।

भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेई अकादमी शिखर साहित्य सम्मान 2017 के लिए प्रोफेसर केशव शर्मा को संस्कृत साहित्य के क्षेत्र में आजीवन एवं उत्कृष्ट योगदान योगदान के लिए सम्मानित किया गया। मंडी जिला से संबंध रखने वाले डा. ओसी हांडा को भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेई अकादमी शिखर साहित्य सम्मान 2018 से अलंकृत किया गया। ललित कला के क्षेत्र में चंबा रुमाल में आजीवन एवं उत्कृष्ट योगदान और विशेष उपलब्धियों के लिए महाराजा संसार चंद अकादमी शिखर सम्मान 2018 से दिनेश कुमारी को सम्मानित किया गया।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma